अयोध्या: फर्जी मार्कशीट मामले में बीजेपी विधायक खब्बू तिवारी की सदस्यता रद्द

यूपी विधानसभा सचिवालय ने गुरुवार को उत्तर प्रदेश 2022 में विधानसभा चुनाव के मद्देनजर अयोध्या की गोसाईगंज सीट से बीजेपी विधायक इंद्र प्रताप उर्फ खब्बू तिवारी को 28 साल पुराने एक मामले में दोषी ठहराया है। जिसके बाद खब्बू तिवारी को यूपी विधानसभा की सदस्यता के लिए अयोग्य घोषित कर दिया हैं अर्थात उनकी सदस्यता रद्द कर दी गई है।

दरअसल मामला कुछ ऐसा है कि 18 अक्टूबर को विधायक खब्बू तिवारी को कोर्ट ने फर्जी मार्कशीट मामले में 5 साल की सजा सुनाई थी। क्योंकि इस बात की पुष्टि हो गई थी कि बीजेपी विधायक ने साकेत यूनिवर्सिटी में अंसार शीट और कुछ कागजात से छेड़छाड़ की थी 29 साल पहले।

खब्बू तिवारी पर 5 साल की सजा और 13 हजार का जुर्माना भी लगा है। यह मामला 1992 का है जब श्री राम जन्मभूमि पुलिस स्टेशन में अयोध्या के साकेत डिग्री कॉलेज के प्रिंसिपल यदुवंश राम त्रिपाठी द्वारा फर्जी मार्कशीट का उपयोग करने का आरोप लगाते हुए मामला दर्ज कराया गया था।

विज्ञापन