Asaduddin Owaisi: सरकार बना रही थी उद्योगपतियों को बैसाखी लेकिन काम ना आ सकी

बैरिस्टर असदुद्दीन ओवैसी ने एक इंटरव्यू में कहा केंद्र सरकार समझ चुकी है के उत्तर प्रदेश 2022 के चुनाव में समीकरण परिस्थितियों से विपरीत जा रहा है इस कारण केंद्र सरकार कृषि कानून बेल को वापस लेने की बात कर रही है। उन्होंने केंद्र पर निशाना साधते हुए कहा कि केंद्र ने बड़े उद्योगपतियों को अपनी बैसाखी बनाने की कोशिश की थी।

लेकिन वह बैसाखी केंद्र सरकार के किसी काम ना आ सकी जिससे कि सरकार को अपनी सत्ता हिलती नजर आने लगी इसलिए आज केंद्र सरकार ने कृषि कानून बिल को वापस लेने का ऐलान किया है।


उन्होंने आगे कहा इस गलत और काले कानून के कारण 700 किसानों को अपनी जानें गंवानी पड़ी। अगर संविधान को सामने रखते तो यह कानून बनता नहीं और ना ही उन 700 किसानों को अपनी जान गंवानी पड़ती। केंद्र ने यह फैसला बहुत देर में लिया उन्होंने आगे कहा बहुत देर कर दी मेहरबा आते आते।

अपने बयान के तीसरे चरण में बैरिस्टर असदुद्दीन ओवैसी ने कहा जैसा कि मैं पहले से कहता आ रहा हूं कि यह सरकार डरती है जनता के रोड पर आने से जब जनता प्रोटेस्ट करती है। उन्होंने कहा पहला जब जनता CAA मैं मुसलमानों के साथ पूरे देश के सेक्यूलर लोग रोड पर उतरे और इस इस कानून के अभी तक रूल्स नहीं बन पाए और दूसरा यह कृषि कानून जिसमें किसानों ने आंदोलन किया और इसमें किसानों को बड़ी कामयाबी मिली है।

विज्ञापन