यूपी में मुख्यमंत्री बनाने के लिए योगी आदित्यनाथ और केशव प्रसाद मौर्या के समर्थको का प्रदर्शन , मनोज सिन्हा का सीएम् बनना तय

लखनऊ | उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावो के नतीजे आये एक हफ्ता हो चूका है लेकिन अभी तक बीजेपी मुख्यमंत्री तय नही कर पायी है. हालाँकि मुख्यमंत्री बनने की रेस में कई लोग शामिल है लेकिन सूत्रों से मिली खबर के मुताबिक रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा का नाम फाइनल हो चूका है. मनोज सिन्हा , अमित शाह और नरेन्द्र मोदी के बेहद करीबी माने जाते है और उन्हें प्रशासनिक अनुभव भी काफी है.

मनोज सिन्हा का नाम मुख्यमंत्री के लिए फाइनल होने की खबर मिलने के बाद , प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य और बीजेपी सांसद योगी आदित्यनाथ के समर्थको ने लखनऊ में विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया. उधर खबर है की योगी आदित्यनाथ को दिल्ली बुलाया गया है. पार्टी नेतृत्व को लगता है की मनोज सिन्हा को मुख्यमंत्री बनाये जाने से योगी नाराज हो सकते है इसलिए उनको मनाने की कवायद की जा रही है.

आज शाम 5 बजे बीजेपी विधायक दल की बैठक होगी जिसमे मुख्यमंत्री चुनने की औपचारिकताये पूरी की जाएगी. इसके बाद रविवार को लखनऊ के स्मृति उपवन मे भव्य शपथ ग्रहण समारोह आयोजित किया जायेगा. शपथ ग्रहण में प्रधानमंत्री मोदी और अमित शाह भी शामिल होंगे. मुख्यमंत्री के साथ साथ करीब तीन दर्जन मंत्री भी शपथ लेंगे. लेकिन इससे पहले बीजेपी के लिए सबसे बड़ी चुनौती योगी आदित्यनाथ और केशव प्रसाद बने हुए है.

हालाँकि केशव प्रसाद , अमित शाह से मुलाकात करने के बाद थोड़े नरम दिखाई दे रहे है. मुख्यमंत्री की रेस पर उन्होंने कहा की बीजेपी में इसको लेकर कोई भी रेस नही है. उधर विधायक दल की बैठक से पहले केन्द्रीय मंत्री वैंकया नायडू लखनऊ पहुँच चुके है. वो यहाँ सभी विधायको के साथ मुलाकात करेंगे. फिलहाल खबर है की मनोज सिन्हा के नाम पर मोहर लग चुकी है लेकिन खुद मनोज सिन्हा इससे इंकार करते है. उनका कहना है की मैं रेस में नही हूँ लेकिन केन्द्रीय नेतृत्व जो भी जिम्मेदारी देगा मैं उसको स्वीकार करूँगा.

विज्ञापन