mamatasudipandmukulroy_pti-580x3951

कोलकाता | तृणमूल कांग्रेस सांसद सुदीप बंदोपाध्याय की गिरफ़्तारी के बाद पुरे कोलकाता में हिंसा का दौर चल पड़ा. जगह जगह तृणमूल कांग्रेस और बीजेपी कार्यकर्ताओ में हाथापाई शुरू हो गयी. जिसमे कई लोगो के घायल होने की खबर है. उधर बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने इस मामले में प्रधानमंत्री मोदी को आड़े हाथो लेते हुए उन पर बदले की राजनीती करने का आरोप लगाया.

रोज वैली चिटफंड मामले में आज सीबीआई ने तृणमूल सांसद सुदीप बंदोपाध्याय को गिरफ्तार कर लिया. एक हफ्ते के अन्दर सीबीआई ने तृणमूल के दुसरे नेता को गिरफ्तार किया है. मंगलवार को सुबह 11 बजे सुदीप कोलकाता के सीबीआई दफ्तर पहुंचे. यहाँ करीब 3 घंटे की पूछताछ के बाद उनको गिरफ्तार कर लिया गया.

इससे पहले सीबीआई सुदीप को दो बार पूछताछ के लिए समन भेज चूका था. लेकिन सुदीप संसद सत्र का हवाला देकर पूछताछ के लिए हाजिर नही हुए. उधर ममता बनर्जी ने इस मामले में आक्रमक रवैया अख्तियार किया है. उन्होंने सुदीप की गिरफ़्तारी के बाद, अपने नेताओ के साथ एक आपात बैठक की.

बैठक के बाद ममता ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा की पीएम मोदी जी चाहे तो हमें भी गिरफ्तार कर ले लेकिन नोट बंदी पर हमारा विरोध जारी रहेगा. इसके अलावा तृणमूल कांग्रेस कल से धरना पर बैठेगी. मालूम हो की शुक्रवार को तृणमूल के एक अन्य सांसद तापस पाल को रोज वैली चिटफंड मामले में ही गिरफ्तार किया गया था.

सुदीप की गिरफ़्तारी के एक घंटे के अन्दर बीजेपी और तृणमूल कार्यकर्ताओ की बीच झड़प शुरू हो गयी. चूँकि ममता, सुदीप की गिरफ़्तारी को राजनितिक विद्वेष की भावना से देख रही है इसलिए पुरे कोलकाता में बीजेपी के प्रति उनके कार्यकर्ताओ का गुस्सा फुट पड़ा. यही नही बीजेपी कार्यालय पर भी हमला किया गया. हालाँकि अभी तक इसकी जानकारी नही मिली है की कार्यलय पर हमला करने वाले कौन थे.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें