Wednesday, June 16, 2021

 

 

 

ब्रेकिंग न्यूज़: सुप्रीम कोर्ट का फैसला , 6 महीने में केंद्र बनाये कानून तब तक तीन तलाक पर रहेगी रोक

- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली | सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को तीन तलाक पर एतिहासिक फैसला सुनाते हुए इस पर छह महीने के लिए रोक लगा दी. कोर्ट ने केंद्र सरकार को 6 महीने के अन्दर इस पर कानून बनाने का आदेश दिया है. हालाँकि कोर्ट ने तीन तलाक को असंवैधानिक मानने से इनकार कर दिया. उन्होंने कहा की कानून बनाने का काम संसद का है. फ़िलहाल जब तक इस पर कोई कानून नही बन जाता तब तक तीन तलाक पर रोक रहेगी.

मंगलवार को पूरा सुप्रीम कोर्ट की तरफ टकटकी लगाये हुए बैठा था. पूरा देश इस बात का इन्तजार कर रहा था की आखिर कोर्ट तीन तलाक पर क्या फैसला सुनाएगी. सुबह लगभग साढ़े दस बजे पांचो जज सुप्रीम कोर्ट के कोर्ट रूम 1 पहुंचे. सुबह से ही यह कोर्ट रूम खचाखच भरा हुआ था. थोड़ी ही देर बाद जस्टिस जेएस खेहर ने अपना फैसला पढना शुरू किया. जस्टिस खेहर ने तीन तलाक पर केंद्र सरकार को 6 महीने के अन्दर कानून बनाने के लिए कहा.

चीफ जस्टिस ने कहा की सभी दलों को राजनीती को अलग रखकर इस पर फैसला करना चाहिए. चूँकि कानून बनाने का काम संसद का है इसलिए छह महीने के अन्दर इस पर कानून लाया जाए. तब तक तीन तलाक पर रोक रहेगी. अगर इस दौरान कोई भी तलाक होता है तो उसे अवैध माना जायेगा. हालाँकि कोर्ट ने तीन तलाक को असंवैधानिक मानने से इनकार कर दिया. उन्होंने कहा की तलाक-ए-बिद्दत आर्टिकल 14, 15, 21 और 25 का उल्लंघन नहीं करता.

करीब 11 बजे पांच जजों की पीठ ने तीन तलाक को 3-2 से ख़ारिज कर दिया. बताते चले की कई मुस्लिम महिलाओं ने सुप्रीम कोर्ट में तीन तलाक को खत्म करने की याचिका दाखिल की थी. इस पर सुप्रीम कोर्ट ने 18 मई को अपना फैसला सुरक्षित रखा था. जहाँ मामले में केंद्र सरकार तीन तलाक को खत्म करने के पक्ष में थी वही आल इंडिया मुस्लिम पर्सनल बोर्ड ने इसे धार्मिक मामला बताते हुई कोर्ट से इस पर सुनवाई नही करने की मांग की थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles