shirke_fbsport_647_101716034254

नई दिल्ली | सुप्रीम कोर्ट ने बड़ा फैसला लेते हुए अनुराग ठाकुर को BCCI के अध्यक्ष पद से हटा दिया है. पिछले कुछ महीने से सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित लोढ़ा समिति और BCCI के बीच तनातनी चल रही थी. BCCI , लोढ़ा समिति की सिफ़ारिशो को लागू करने से आनाकानी कर रहा था जिसकी वजह से सुप्रीम कोर्ट बोर्ड से नाराज चल रह था.

लोढ़ा समिति की शिकायत पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने BCCI अध्यक्ष अनुराग ठाकुर को उनके पद से हटाने का आदेश दिया. यही नही सुप्रीम कोर्ट ने अनुराग ठाकुर से पुछा है की आखिर उनके खिलाफ एक्शन क्यूँ न लिया जाए? मालूम हो की अनुराग ठाकुर पहले ही सुप्रीम कोर्ट के निशाने पर आ चुके थे. उन्होंने कोर्ट में झूठा हलफनामा दिया था की उन्होंने बोर्ड में लोढ़ा समिति की सिफारिशे लागु की है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

जस्टिस टीएस ठाकुर की अध्यक्षता वाली बेंच ने अनुराग ठाकुर के खिलाफ यह फैसला सुनाया. कोर्ट ने बोर्ड में एडमिनिस्ट्रेटर के नाम सुझाने के लिए वरिष्ठ वकील फली नरीमन और गोपाल सुब्रमन्यम को नियुक्त किया है. इस मामले में अगली सुनवाई 19 जनवरी को होगी.

कोर्ट ने बोर्ड सचिव अजय शिर्के को भी उनके पद से हटा दिया है. BCCI अध्यक्ष अनुराग ठाकुर पर आरोप था की वो बोर्ड में लोढ़ा समिति की सिफारिशे लागू नही कर रहे है. इसके अलावा उन्होंने ICC को भी एक पत्र लिखने के लिए कहा था जिसमे यह लिखा हो की लोढ़ा समिति की सिफारिशे लागु करने से बोर्ड का कामकाज प्रभावित होगा.

उधर जस्टिस लोढ़ा ने मीडिया से बात करते हुए कहा की यह क्रिकेट की जीत है. बोर्ड को कोर्ट का फैसला मानना पड़ेगा. यह क्रिकेट को और ऊंचाई पर लेकर जाएगा. खेल चलता रहता है और प्रशासक आते जाते रहते है क्योकि खेल सबसे बड़ा है..

Loading...