Saturday, June 12, 2021

 

 

 

तमिलनाडु में मचा सत्ता संग्राम रोचक मोड़ पर, शशिकला ने राज्यपाल से मिल ठोका दावा, DMK का पन्नीरसेलवम को समर्थन

- Advertisement -
- Advertisement -

चेन्नई | तमिलनाडु में मचा सत्ता संग्राम पल पल करवट बदल रहा है. पहले शशिकला के लिए कुर्सी छोड़ने वाले पन्नीरसेलवम अब उनके खिलाफ खड़े हो गये है जबकि जयललिता के राजनितिक शत्रु रहे DMK ने पन्नीरसेलवम को समर्थन देने का एलान कर दिया है. यह लड़ाई अब रोचक मोड़ पर पहुँच चुकी है. उधर शशिकला ने राज्यपाल से मुलाकात कर सरकार बनाने का दावा पेश किया.

शशिकला से पहले पन्नीरसेलवम भी राज्यपाल से मुलाकात कर चुके है. दोनों खेमा राज्यपाल के समक्ष अपना अपना पक्ष रख चूका है. अब गेंद राज्यपाल के पाले में है. हालाँकि पन्नीरसेलवम ने राज्यपाल से मिलने के बाद कहा की उन्होंने विश्वास दिलाया है की न्याय जरुर होगा और धर्म की जीत होगी. पन्नीरसेलवम ने राज्यपाल को उस स्थिति से अवगत करा दिया जिसमे उन्हें इस्तीफा देने पर मजबूर किया गया.

वही इस जंग में रोचक मोड़ उस समय आया जब मुख्य विपक्षी दल DMK की तरफ से कहा गया की अगर पन्नीरसेलवम को बहुमत साबित करने की जरुरत पड़ेगी तो हम उनका समर्थन करेगे. DMK से पहले बीजेपी की तमिलनाडु यूनिट भी पन्नीरसेलवम को अपना समर्थन दे चुकी है. उधर AIADMK के कुछ सांसदों ने आज प्रधानमंत्री मोदी से मुलाकर कर उन्हें तमिलनाडु की राजनितिक स्थिति से अवगत कराया.

पन्नीरसेलवम के बाद शशिकला राज्यपाल से मिलने पहुंची. इससे पहले उन्होंने जयललिता की समाधी पर जाकर उन्हें श्रदांजली दी. राज्यपाल से मिलकर शशिकला ने विधायको के समर्थन की चिट्ठी उन्हें सौपी और सरकार बनाने का दावा पेश किया. इस दौरान राजभव के सामने काफी शशिकला समर्थक मौजूद रहे. राज्यपाल से मिलने पहुंची शशिकला के साथ पार्टी के पांच वरिष्ठ नेता भी मौजूद थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles