Saturday, June 12, 2021

 

 

 

शरद यादव का विवादित बयान कहा, बेटी की इज्जत से ज्यादा वोट की इज्जत

- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली | जदयू के पूर्व अध्यक्ष और राज्यसभा सांसद शरद यादव ने चुनावो में वोटो की खरीद फरोख्त पर बेहद ही विवादित बयान दिया है. उन्होंने चुनाव लड़ने में होने वाले भारी भरकम खर्च पर भी चिंता व्यक्त की. उन्होंने पैसो की कमी की वजह से चुनाव न लड़ने की असमर्थता जताते हुए कहा की हमारी पार्टी पैसो की कमी की वजह से उत्तर प्रदेश में चुनाव नही लड़ पा रही है.

न्यूज़ एजेंसी एएनआई ने बुधवार को एक विडियो जारी किया जिसमे शरद यादव एक जनसभा को संबोधित करते दिख रहे है. इस सभा में शरद यादव ने कहा,’ बैलट पेपर के बारे में बड़े पैमाने पर लोगो को समझाने की जरुरत है. लोगो को बताना पड़ेगा की आपके वोट की इज्जत बेटी की इज्जत से ज्यादा है. अगर बेटी की इज्जत गयी तो गाँव मोहल्ले की इज्जत जायेगी लेकिन वोट के बिकने से पुरे देश की इज्जत जायेगी और आने वाला सपना कभी पूरा नही हो सकेगा’.

शरद यादव लोगो को यह समझाना चाह रहे थे की आप अपने वोट की कीमत समझिय , आप अगर पैसे लेकर वोट देते है तो यह देश के भविष्य के साथ खिलवाड़ होता है. अच्छी पार्टियों के पास इतना पैसा नही होता की मतदाता को देकर वोट खरीद सके और इस बात का फायदा वो लोग और पार्टिया उठाती है जिनके पास पैसो की कोई कमी नही है. शरद यादव ने लोगो को बताया की आजकल वोट को ख़रीदा-बेचा जाता है जिसकी वजह से चुनाव लड़ना बेहद महंगा हो गया है.

शरद यादव ने दक्षिणी राज्यों का उदहारण देते हुए कह की वहां सांसद बनने के लिए 25-30 करोड़ रूपए खर्च होते है वही विधायक बनने के लिए 5 से 10 करोड़. इस पर चिंता जताते हुए शरद यादव ने कहा की मैंने कई साल पार्टी चलाई है लेकिन ऐसी स्थिति कभी नही आई. आज संसाधनों की कमी की वजह से हम उत्तर प्रदेश में चुनाव लड़ने की स्थिति में नही है. महागठबंधन पर उन्होंने कहा की मुलायम से बातचीत की लेकिन कोई हल नही निकला लेकिन हम प्रयास करते रहेंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles