rampal new 1539228982 618x347

हिसार । हरियाणा बरवाला में क़रीब 4 साल पहले हुए बवाल में संत रामपाल सहित 15 लोगों को उम्रक़ैद की सज़ा सुनाई गयी है। हिसार कोर्ट ने केवल एक मामले में यह सज़ा सुनाई जबकि दूसरे मामले में सज़ा का एलान 17 अक्टूबर को होगा। फ़िलहाल सज़ा के एलान के बाद हिसार में सुरक्षा के पुख़्ता इंतज़ाम किए गये है। मालूम हो कि अदालत ने 11 अक्टूबर को रामपाल को दोषी क़रार दिया था।

ग़ौरतलब है कि रामपाल के खिलाफ दो मामले छह लोगों की हत्या से जुड़े हैं। एक मामले में हिसार जिले के बरवाला शहर के समीप उसके सतलोक आश्रम में पुलिस व उसके समर्थकों के बीच हिंसक झड़प में छह लोग मारे गए थे। 11 अक्टूबर को रामपाल को 2 मामलों में दोषी ठहराया गया था। दूसरे मामले में सजा 17 अक्टूबर को सुनाई जाएगी।

एफआईआर नंबर 429 के मुताबिक नवंबर 2014 में बरवाला के सतलोक आश्रम में रामपाल के समर्थकों और पुलिस के बीच झड़प के दौरान वह और उसके 15 समर्थकों पर चार महिलाओं और एक बच्चे की हत्या करने का आरोप है। एफआईआर नंबर 430 के मुताबिक रामपाल और उसके 13 समर्थकों पर नवंबर 2014 में बरवाला के सतलोक आश्रम में रामपाल के समर्थकों और पुलिस के बीच झड़प के दौरान आश्रम के भीतर एक महिला की हत्या का आरोप है। एफआईआर नंबर 430 पर सजा कल सुनाई जाएगी।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इससे पहले, हिसार अदालत ने अगस्त 2017 में रामपाल को लोगों को बंधक बनाने, गैरकानूनी ढंग से इकट्ठा होने, लोकसेवक के आदेश की अवहेलना करने के दो मामलों में बरी कर दिया था। रामपाल पर फैसले को लेकर सुरक्षा के खास इंतजाम किए गए हैं। 17 अक्टूबर तक इलाके में धारा 144 लागू रहेगी और सुरक्षाकर्मी तैनात रहेंगे।

Loading...