नई दिल्ली | दिल्ली राज्य चुनाव आयोग ने नगर निगम चुनावो के लिए तारीखों का एलान कर दिया है. दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल के आदेश के बावजूद राज्य चुनाव आयोग ने ईवीएम मशीन से ही वोटिंग कराने का आदेश जारी किया है. चुनाव आयोग की घोषणा के साथ ही राज्य में आचार सहिंता लागू हो गयी. अब दिल्ली सरकार , जनहित मामलो में कोई बड़े फैसले नही ले पाएगी.

राज्य निर्वाचन आयोग आयुक्त एसके श्रीवास्तव ने प्रेस कांफ्रेंस कर नगर निगम चुनावो की तारीखों का एलान कर दिया. दिल्ली में 22 अप्रैल को वोट डाले जायेंगे जबकि 25 अप्रैल को वोटो की गिनती होगी. तारीखों के साथ ही श्रीवास्तव ने यह भी स्पष्ट कर दिया की मतदान किस माध्यम से किया जाएगा. उन्होंने बताया की एमसीडी चुनावो में पहले की ही तरह ईवीएम् मशीन का इस्तेमाल किया जाएगा.

हालाँकि मुख्यमंत्री केजरीवाल ने मुख्य सचिव को पत्र लिखकर बैलेट पेपर से मतदान कराने का आदेश दिया था. उन्होंने इसके लिए सभी औपचारिकताओ को पूरा करने की बात भी कही थी. लेकिन चुनाव आयोग ने केजरीवाल की मांग को ठुकराते हुए ईवीएम् मशीन के इस्तेमाल को हरी झंडी दे दी. दिल्ली में तीन नगर निगमों के लिए मतदान किया जाएगा.

दरअसल दिल्ली नगर निगम, तीन निगमों में बंटा हुआ है. एनडीएमसी, एसडीएमसी और ईडीएमसी. तीनो ही निगमों में पिछले दस सालो से बीजेपी का शासन है. हालाँकि हर बार केवल कांग्रेस और बीजेपी के बीच ही मुख्य मुकाबला होता था लेकिन इस बार आम आदमी पार्टी के मुकाबले में आने से यह चुनाव बड़ा दिलचस्प होने वाला है. ये चुनाव केजरीवाल सरकार के लिए भी जनादेश का काम करेगा. इसलिए इन चुनावो में केजरीवाल की साख भी दावं पर लगी होगी.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?