Saturday, June 12, 2021

 

 

 

एसबीआई एटीएम से 2000 के ‘चूरण लेबल’ नोट निकलने पर केजरीवाल ने मोदी पर साधा निशाना

- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली | दिल्ली के संगम विहार इलाके के एक एटीएम से 2000 के ‘चूरण लेबल’ वाले नोट निकलने पर हंगामा मच गया. मीडिया में जैसे ही यह खबर फ़्लैश हुई, विपक्षी दलों ने मोदी सरकार को घेरना शुरू कर दिया. खासकर आम आदमी पार्टी के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने प्रधानमंत्री मोदी पर संगीन आरोप लगाते हुए पुछा की क्या इसकी जांचा होगी या इसको भी बाकी मामलो की तरह दबा दिया जाएगा.

अरविन्द केजरीवाल ने इस मामले पर ट्वीट कर लिखा,’ ये किसने छापे, एटीएम कैसे पहुंचे? बड़ा संगीन मामला है. कोई जांच होगी या मोदी जी इसे भी वैसे ही दबा देंगे जैसे अपने बाकी पाप दबा देते है’. इसके अगले ट्वीट में केजरीवाल मोदी पर कटाक्ष करते हुए लिखते है,’ जो प्रधानमंत्री नोट ठीक से नही छाप सकता तो देश क्या चलाएगा? पुरे देश का मजाक बनाकर रख दिया’.

मालूम हो की 6 फ़रवरी को दिल्ली के संगम विहार इलाके के एसबाआई एटीएम से 2000 के 4 फर्जी नोट निकले. इन सभी नोटों पर रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया की जगह चिल्ड्रेन बैंक ऑफ़ इंडिया लिखा हुआ था एवं अशोक चिन्ह की जगह ‘चूरण लेबल’ लिखा हुआ था. इसके अलावा धारक को वचन देने की जगह पर लिखा हुआ था की मैं धारक को 2000 कूपन देने का वचन देता हूँ.

कॉल सेंटर में काम करने वाले रोहित के साथ यह घटना घटित हुई. एटीएम से फर्जी नोट निकलते ही उसने नजदीक के थाने में शिकायत दर्ज कराई. जांच के दौरान थाने के सब इंस्पेक्टर ने जब खुद एटीएम से पैसे निकाले तो उसको भी वही फर्जी नोट मिला जो रोहित को मिला था. अभी इस मामले की जांच जारी है लेकिन 15 दिन बीत जाने के बाद भी अभी तक कोई गिरफ़्तारी इस मामले में नही हुई है.

यह पहला मौका नही है जब केजरीवाल ने सीधे मोदी पर हमला किया हो. उत्तर प्रदेश में हो रहे विधानसभा चुनावो में मोदी ने एक रैली को संबोधित करते हुए अपनी माँ का जिक्र किया था. इस पर भी केजरीवाल ने मोदी को घेरते हुए ट्वीट किया था की मैंने इतना बेशर्म प्रधानमंत्री आज तक नही देखा जिसने राजनितिक लाभ लेने के लिए अपनी बूढी माँ का चुनावो में इस्तेमाल किया हो.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles