PUBG के लिए रची खुद की किडनैपिंग कहानी, हाथ-पैर बंधी तस्वीर भेज कहा- बेटे को जिंदा देखना है तो…

युवाओं की PUBG की दीवानगी उनसे क्या कुछ नहीं करवा चुकी है लेकिन इस बार एक युवा ने सबको चूका दिया है। छत्तीसगढ़ के बिलासपुर से भी एक रोचक कहानी सामने आई है। यहां के सरगुजा के शंकरघाट सोनपुर कला में रहने वाले 19 वर्षीय वासु विश्वकर्मा ने खुद की ही किडनैपिंग की कहानी रच दी। अपने हाथ-पैर बांध कर बिना कपड़ो के अपने फ़ोन से तसव्वर लेके अपने घर वालो को भेज मांगली फिरौती।

मामला पुलिस के पास पंहुचा तो पुलिस ने जांच की तो एक होटल के कमरे में युवक को पकड़ा गया। जिसके बाद कहानी खुल के सामने आई। पुलिस के मुताबिक, दिसंबर 10 की सुबह नौ बजे वासु घर से निकला था। लेकिन वह घर नहीं लौटा, 11 दिसम्बर को परिवार वालो के पास वासु के फ़ोन से call आई जिसमे फिरौती की मांग की गई। जिसके बाद परिवार वालो ने पुलिस को इस मामले की सूचना दी, सोचना प्राप्त होते ही पुलिस ने झंच शुरू कर दी।

युवक ने बहुत ही शातिर ढंग से अपनी किडनैपिंग की साजिश रही थी। पहले वह एक होटल के कमरे में छिप गया। आवाज बदलकर घर पर फोन किया कि आपके लड़के का अपहरण हो गया है, लड़का जिंदा चाहिए तो चार लाख रुपये दो। इसके बाद अपने ही नंबर से घर वालों को एक तस्वीर भेजता है। तस्वीर में वह बिन कपड़ों के दिख रहा है और हाथ-पैर बंधे हुए हैं।

इस पूरी कहानी में युवक ने अपने नंबर का इस्तेमाल करके गलती कर दी। पुलिस ने नंबर को ट्रेस किया तो लोकेशन बिलासपुर के सिविल लाइन इलाके की निकली, फिर तुरंत पुलिस ने होटल में दबिश मरी जहा युवक मज़े से ऐश कर रहा था। पुलिस अधीक्षक विवेक शुक्ला ने बताया कि पूछताछ के दौरान युवक ने कबूल किया कि वह पबजी खेलता था। चार लाख की फिरौती भी उसने पबजी के लिए ही मांगी थी, वह चार लाख रुपये लगाकर 1 करोड़ रुपये कमाने का सपना देख रहा था। पुलिस युवक पर फर्जी मुकदमा दर्ज करवाने के खिलाफ कार्रवाई करेगी।

विज्ञापन