gdfgr

नई दिल्ली | नोट बंदी की वजह से , कैश की किल्लत झेल रही आम जनता को 2 से 3 हफ्ते में राहत मिलने की उम्मीद है. मोदी सरकार ने दावा किया है की जल्द ही बजार में भरपूर करेंसी आ जायेगी. मोदी सरकार फ़िलहाल 500 के नए नोट छापने पर जोर दे रही है. इसके अलावा 100 रूपए के नोट की छपाई में भी तेजी आई है. सरकार के अनुसार 100 रूपए के करीब 80 हजार करोड़ रूपए और बाजार में उतारने की तैयारी है.

गुरुवार को प्रेस वार्ता में बोलते हुए आर्थिक मामलो के सचिव शशिकांत दास ने जानकारी दी की बैंकों को निर्देश दिया गया है की वो एटीएम में ज्यादा से ज्यादा कैश डाले, जबकि बैंक ब्रांच के माध्यम से ही ज्यादा कैश देने पर ध्यान लगा रहा है. शशिकांत दास ने कहा की पहले सरकार का ध्यान 2000 के नोट छापने पर ज्यादा था लेकिन ताजे हालातो से पता चल रहा है की 2000 के नोट का बाजार में सर्कुलेशन नही हो पा रहा है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

शशिकांत के अनुसार लोग 2000 का नोट खर्च नही कर रहे है इसलिए 500 के नोट छापने पर ज्यादा जोर दिया जा रहा है. शशिकांत ने बताया की 500 के नोट की बम्पर छपाई चल रही है. दो से तीन दिनों के अन्दर ही बाजार में काफी 500 के नोट आ जायेंगे. इसके अलावा 80 हजार 100 रूपए के नए नोट जारी किये गये है. इससे भी हालात जल्द सुधरने में मदद मिलेगी.

शशिकांत ने आगे बताया की करीब 1 लाख एटीएम को अपग्रेड कर दिया गया है. गाँव देहात में भी अब काफी कैश पहुँच चूका है. फिर भी हम गाँव में ज्यादा कैश पहुंचा रहे है. जहाँ जरुरत पड़ रही है वहां एयरलिफ्ट का भी सहारा लिया जा रहा है. कोआपरेटिव बैंक में काफी पैसा पहुँचाया जा रहा है जिससे गाँव के लोगो को काफी मदद मिल रही है. पकडे जा रहे नए नोटों के बारे में शशिकांत ने कहा की सभी जब्त नोटों को भी सप्लाई के काम में प्रयोग किये जा रहे है.

Loading...