नई दिल्ली | भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी दिल्ली के होटल में आग लगने के बाद बाल बाल बच गए. धोनी झारखण्ड क्रिकेट टीम के साथ इस होटल में ठहरे हुए थे. सभी खिलाडियों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया है लेकिन सभी खिलाडियों की किट अन्दर रहने की वजह से वो जलकर राख हो गयी है जिसके बाद झारखण्ड टीम के साथ होने वाले मुकाबले को भी रद्द कर दिया गया है.

मिली जानकारी के अनुसार दिल्ली के द्वारका स्थित होटल वेलकम में झारखण्ड की क्रिकेट टीम ठहरी हुई थी. झारखण्ड की टीम यहाँ विजय ट्राफी का सेमीफाइनल खेलने आई हुई है. झारखण्ड का मुकाबला बंगाल की टीम से होना था. यह मैच पालम के स्टेडियम में खेला जाना था. भारतीय टीम की कप्तानी छोड़ने के बाद महेंद्र सिंह धोनी आजकल झारखण्ड टीम की कमान संभाले हुए है.

जब से धोनी ने टीम की कमान संभाली है उसके बाद से झारखण्ड की टीम का प्रदर्शन भी सुधार है. यही कारण है की झारखण्ड की टीम विजय ट्राफी के सेमीफाइनल में पहुँचने में कामयाब रही. खबर है की शुक्रवार सुबह साढ़े छह बजे के करीब होटल वेलकम में आग लग गयी. इसकी सूचना तुरंत दमकल विभाग को दी गयी. जिसके बाद करीब सवा घंटे की मसक्कत के बाद आग पर काबू पाया जा सका.

आग लगने के बाद सभी खिलाडियों को सुरक्षित होटल से निकाल लिया गया. लेकिन सभी खिलाडियों की किट इस हादसे में जल गयी. जिसके बाद सेमी फाइनल मुकाबले को रद्द कर दिया गया. अब यह मुकाबल कल खेला जाएगा. इसी होटल में टीम के साथ धोनी भी ठहरे हुए थे. आग बुझाने के लिए दमकल विभाग के करीब 30 कर्मचारी लगे हुए थे.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?