चेन्नई | तमिलनाडु के नवनिर्वाचित मुख्यमंत्री इ पलनिसामी ने भारी हंगामे के बीच सदन में बहुमत साबित कर दिया. पलनिसामी को 122 विधायको का समर्थन मिला जबकि बहुमत के लिए 117 विधायको के समर्थन की जरुरत थी. हालाँकि इस दौरान विधानसभा से सभी विपक्षी विधयाको को बाहर निकाल दिया गया. इसके बाद ध्वनिमत से पलिनिसामी ने अपना बहुमत साबित कर दिया.

इससे पहले आज सुबह विधानसभा की कार्यवाही शुरू होते ही मुख्यमंत्री इ पलनिसामी ने विश्वास मत हासिल करने के लिए सदन के पटल पर प्रस्ताव रखा. लेकिन विपक्षी दल के विधयाको ने गुप्त मतदान की मांग की. इस दौरान विपक्ष के नेता एम् के स्टालिन और पलनिसामी के बीच नोकझोंक भी हुई. गुप्त मतदान को स्पीकर द्वारा ख़ारिज करने के बाद पुरे सदन में हंगामा शुरू हो गया.

डीएमके के विधायको ने सदन के अन्दर कुर्सियों को फेंकना शुरू कर दिया, एजेंडा पेपर फाड़ दिया गया. यहाँ तक की एक डीएमके का एक विधायक स्पीकर की कुर्सी पर भी जा बैठा. इसी बीच स्पीकर के साथ भी धक्कामुक्की की गयी. मीडिया से बात करते हुए स्पीकर पी धनपाल ने कहा की मैं बता नही सकता की मेरे साथ क्या क्या हुआ है? मेरी शर्ट तक फाड़ दी गयी. हंगामा बढ़ता देख सदन की कार्यवाही को 1 बजे तक के लिए स्थगित कर दिया गया.

विधानसभा की कार्यवाही दोबारा शुरू होने पर भी हंगामा नही रुका. विपक्षी विधायक लगातार गुप्त मतदान की मांग करते रहे. पन्नीरसेलवम ने भी विपक्षी दल के विधायको की हाँ में हाँ मिलते हुए गुप्त मतदान की मांग की. हंगामा खत्म नही होता देख स्पीकर ने सभी डीएमके विधायको को सदन से बाहर निकाल दिया और विधानसभा की कार्यवाही को 3 बजे तक के लिए स्थगित कर दिया. विधानसभा के गेट बंद कर दिए गए और मीडिया रूम के ऑडियो कनेक्शन काट दिए गए.

3 बजे दोबारा कार्यवाही शुरू होने पर बहुमत पर मतदान कराया गया. ध्वनी मत से हुए मतदान के जरिये पलनिसामी को 122 मत मिले. स्पीकर की कार्यवाही से असंतुष्ट डीएमके विधायको ने सदन के बाहर धरना दिया. मीडिया से बात करते हुए स्टालिन ने कहा की जब राज्यपाल ने 15 दिन के अन्दर बहुमत साबित करने के लिए कहा था तो इतनी जल्दी करने की क्या जरुरत थी. इस पुरे हंगामे में स्टालिन ने दावा किया की उनकी शर्ट भी फाड़ी गयी. वो फटी शर्त में ही मीडिया के सामने आये. इस दौरान उन्होंने स्पीकर के साथ ही घटना पर दुखी व्यक्त किया.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें