money

नई दिल्ली | नोट बंदी के बाद मोदी सरकार ने लोगो को भरोसा दिलाया था की वो अपने पुराने 500 और 1000 के नोट बैंक या डाकघर में जमा करा सकेंगे. इसके लिए सरकार ने 50 दिन का समय दिया था. इसके साथ साथ प्रधानमंत्री मोदी ने यह भी बताया था की अगर आप 30 दिसम्बर तक पुराने नोट बैंक में जमा नही करा सके तो 31 मार्च 2017 तक आरबीआई की किसी भी शाखा में पुराने नोट जमा करा सकेंगे.

नोट बंदी के बाद सरकार ने करीब 59 बार नियम बदले. अब चूँकि 50 दिन खत्म होने वाले है तो सरकार आरबीआई में पुराने नोट जमा कराने को लेकर भी एक नियम लेकर आई है. सरकार ने 30 दिसम्बर के बाद पुराने नोट रखने वालो पर जुर्माना लगाने वाले एक अध्यादेश को मजूरी दे दी है. बुधवार को कैबिनेट की मीटिंग में इस अध्यादेश पर मोहर लगा दी गयी.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इस अध्यादेश के अनुसार अब एक तय सीमा से अधिक पुराने नोट घर पर नही रखे जा सकेंगे. इसके अलावा सरकार ने आरबीई की शाखा में पुराने नोट जमा कराने को लेकर भी सीमा तय कर दी है. अब 10 हजार से ज्यादा पुराने नोट आरबीआई की शाखा में जमा नही हो सकेंगे. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सरकार ने पुराने नोट को अयोग्य ठहराने वाले अध्यादेश को मंजूरी दे दी.

मिली जानकारी के अनुसार पुराने 500 और 1000 के दस हजार से ज्यादा कीमत के नोट अब आप घर पर नही रख सकेंगे. अध्यादेश में कहा गया की जिसके पास से , तय सीमा से अधिक पुराने नोट मिलते है उसके ऊपर 50 हजार रूपए या मिली रकम का पांच गुना जुर्माना लगाया जायेगा. हालाँकि कुछ सूत्र यह भी बता रहे है की इसमें 4 साल की सजा का भी प्रावधान रखा गया है. यह अध्यादेश अब राष्ट्रपति के पास मंजूरी के लिए भेजा जायेगा. इसके बाद यह कानून की शक्ल ले लेगा.

Loading...