arvind-kejriwal
नई दिल्ली. नोट बंदी के बाद हुई से ही देशभर में हलचल मची हुई है जिसका फायदा किसी भी पार्टी को हो लेकिन नुक्सान सीधे तौर पर भाजपा को ही है. हालिया खबर के मुताबिक दिल्ली में म्युनिसपल कारपोरेशन यानी एमसीडी के चुनाव से पहले आम आदमी पार्टी को बड़ी सफलता मिली है. मंडी समिति के चुनाव में 18 सीटों में से पार्टी के 14 प्रत्याशियों ने जीत दर्ज की है.

आपको बता दें कि नोटबंदी के मुद्दे पर दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने एक बड़ी रैली की थी. जिसमें बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भी शामिल हुई थीं.

इस रैली को लेकर भी काफी बवाल हुआ था. जिसमें बीजेपी कार्यकर्ताओं ने सीएम केजरीवाल का विरोध भी किया था. लेकिन अब मंडी समिति के चुनाव के नतीजों से साफ हो गया है कि नोटबंदी के बाद से जमीनी स्तर पर बीजेपी को काफी झटका पहुंच रहा है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

वहीं दिल्ली के हिसाब से बात की जाए तो मंडी समिति के चुनावों को एमसीडी चुनाव का सेमीफाइनल माना जाता है

Loading...