लखनऊ | उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में मिली करारी हार के बाद अखिलेश ने अपनी हार स्वीकार कर ली है. अखिलेश ने प्रेस वार्ता करते हुए कहा की मैं उम्मीद करता हूँ की आने वाली सरकार , हमारी सरकार से भी अच्छा काम करेगी. इस दौरान अखिलेश ने मायावती द्वारा ईवीएम् मशीन पर सवाल उठाने पर टिप्पणी की. कांग्रेस के साथ गठबंधन पर उन्होंने कहा की इससे हमें फायदा हुआ.

चुनावो में मिली हार के बाद अखिलेश पहली बार मीडिया के सामने आये. उन्होंने हार के कारणों पर बात करते हुए कहा की मुझे लगता है की लोग हमसे भी अच्छा काम चाहती है. जनादेश पर तंज कसते हुए अखिलेश ने कहा की शायद लोगो को एक्सप्रेस वे पसंद नही आया इसलिए वो अब बुलेट ट्रेन चाहते है और मैं उम्मीद करता हूँ की सूबे में अब बुलेट ट्रेन भी आएगी.

रैली के दौरान मोदी के किसान कर्ज माफ़ी का वादा करने पर अखिलेश ने कहा की प्रधानमंत्री जी ने कहा था की सरकार बनने के बाद, पहली कैबिनेट मीटिंग में किसानो का कर्ज माफ़ कर दिया जाएगा. उम्मीद करता हूँ की अब किसानो का कर्ज माफ़ हो जायेगा. इसके साथ क्योकि मोदी जी ने वादा किया है इसलिए पुरे देश के किसानो का कर्ज माफ़ हो जायेगा. इस दौरान अखिलेश ने यह भी बताया की उनकी सरकार ने किसानो का 1600 करोड़ रूपए का कर्ज माफ़ किया था.

हार के कारणों पर अखिलेश ने कहा की मेरी सभी रैलियों में भीड़ तो काफी आती थी. मैं अभी भी नही समझ पा रहा हूँ की आखिर वो रैली में करने का क्या आते थे? क्या वो सिर्फ देखने आते थे? उस दौरान मुझे कभी नही लगा की ऐसी स्थिति होगी. कांग्रेस के साथ गठबंधन पर अखिलेश ने कहा की इससे हमें फायदा हुआ है और यह अच्छा है की दो युवा नेता साथ आये है. यह गठबंधन आगे भी जारी रहेगा.

अखिलेश ने मोदी पर तंज कसते हुए कहा की मुझे लगता है की कभी कभी वोट समझाने की बजाय बहकाने से मिल जाती है. हमने लोगो को अपनी योजनाओं के बारे में खूब समझाया लेकिन वो शायद हमसे भी अच्छा काम चाहती थी. मैं इस हार को ख़ुशी के साथ स्वीकार करता हूँ और उन नेताओं और कार्यकर्ताओ का धन्यवाद देता हूँ जिन्होंने चुनाव में हमारा साथ दिया.

नोट बंदी पर उन्होंने कहा की मोदी जी ने नोट बंदी पर कहा था की बैंक में आया अमीरों का पैसा गरीबो को मिलेगा, मैं भी देखना चाहूँगा की यह कब और कितना मिलेगा. मायावती के ईवीएम् मशीन पर सवाल उठाने पर अखिलेश ने कहा की अगर सवाल उठा है तो केंद्र सरकार को इसके बारे में सोचना चाहिए और इसकी जांच करानी चाहिए.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?