how-to-exchange-old-currency-notes

नई दिल्ली | 8 नवम्बर को प्रधानमंत्री मोदी ने 500 और 1000 के नोट बंद करने की घोषणा की. इस घोषणा में मोदी ने कहा की आज रात 12 बजे से ये नोट लीगल टेंडर नही रहेंगे. ये पुराने नोट 30 दिसम्बर तक बैंकों में जमा हो सकेंगे. 30 दिसम्बर आने में अब केवल 4 दिन बचे है. अब खबर है की 30 दिसम्बर के बाद जिसके घर में पुराने नोट बरामद होंगे उन पर सरकार कार्यवाही करने पर विचार कर रही है.

न्यूज़ 18 की खबर अनुसार सरकार अध्यादेश लाकर उन लोगो पर कार्यवाही करने का मन बना रही है जो 30 दिसम्बर के बाद भी घर में पुराने नोट छिपाकर रखना चाहते है. हालंकि सभी पुराने नोट 31 मार्च 2017 तक आरबीआई की किसी भी शाखा में जमा हों सकेंगे. लेकिन सरकार चाहती है की आरबीआई की ब्रांच में कम से कम पैसा जमा हो इसलिए वो इस पर भी सीमा लगाने की तैयारी में है.

मिली जानकारी के अनुसार केवल 500 और 1000 के 10 नोट घर में रखने की अनुमति होगी. इसके ज्यादा नोट मिलने पर सरकार 50000 या बरामद हुई रकम का 5 गुना जुर्माना वसूलेगी. इसके लिए सरकार दो अध्यादेश लाने जा रही है. एक अध्यादेश पुराने नोटों की क़ानूनी वैधता खत्म करने के लिए होगा क्योकि सभी पुराने नोट पर धारक को नोट पर लिखी हुई रकम अदा करने संबंधी वचन लिखा हुआ है.

बिना अध्यादेश के पुराने नोटों की वैधता खत्म नही होगी. और दूसरा अध्यादेश , घर में पुराने नोटों का संग्रह करने वालो पर कार्यवाही करने के कानून सम्बन्धी होगा. उधर खबर मिली है की आरबीआई ने अभी 30 दिसम्बर के बाद पुराने नोट आरबीआई की किसी भी ब्रांच में जमा करने को लेकर स्थिति स्पष्ट नही की है. आरबीआई में कितनी रकम जमा कर सकेगे और क्या इसके लिए आय का ब्यौरा देना होगा, इसके बारे में आरबीआई ने जानकारी नही दी है.

कोहराम न्यूज़ को सुचारू रूप से चलाने के लिए मदद की ज़रूरत है, डोनेशन देकर मदद करें








Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें