विवादित सलाफी प्रचारक डॉ जाकिर नाइक की मुसीबतें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं. हाल ही में दिल्ली हाईकोर्ट ने इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन पर लगे बैन को हटाने से इनकार करते हुए जाकिर नाईक को बड़ा झटका दिया था. अब प्रवर्तन निदेशलाय(ईडी) ने भी जाकिर नाईक की करीब 20 करोड़ सपत्ति जब्त करने की तैयारी शुरू कर दी हैं.

दरअसल, ईडी ने अपनी जांच में वित्तीय लेने-दने में बड़ी गड़बड़ी पाया है. ईडी की और से जब्त किए जाने वाली संपत्तियों में म्यूचुअल फंड निवेश, एक बैंक अकाउंट और दो बिल्डिंग शामिल हैं. ईडी के अधिकारी ने कहा जब्त की जाने वाली संपत्ति की कानूनी रूप से जांच की जा रही है.

याद रहे गुरुवार को दिल्ली हाईकोर्ट ने इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन के सारे अकाउंट्स तुरंत फ्रीज करने के खिलाफ दायर की गई याचिका को खारिज करते हुए बैंक खातों को तत्काल फ्रीज करने का आदेश दिया हैं. इसी के साथ जस्टिस संजीव सचदेवा ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा यह निर्णय भारत की संप्रभुता, अखंडता और राष्ट्रीय सुरक्षा की हिफाजत के लिए लिया गया.

कोर्ट ने कहा कि सरकार ने नाइक के संगठन पर बैन को तत्काल लागू करने के अपने फैसले के समर्थन में कोर्ट के समक्ष साक्ष्य पेश किए. याद रहे गृह मंत्रालय ने नवंबर 2016 की अधिसूचना जारी की थी जिसमें गैर कानूनी गतिविधियां अधिनियम के तहत आईआरएफ पर पांच साल के लिए प्रतिबंध ल गाया गया था.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?