जाकिर नाइक के एनजीओ इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन (IRF) ने एक बड़ा खुलासा करते हुए कहा कि जाकिर नाइक की इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन (IRF) ने 2011 में राजीव गांधी ट्रस्ट को 50 लाख रुपए का चंदा दिया था.

कांग्रेस पार्टी की ओर से यह कबूल किया गया कि 2011 में जाकिर नाईक ने राजीव गांधी ट्रस्ट को 50 लाख रुपए का चंदा दिया था. राजीव गांधी फाउंडेशन (RGF) के अनुसार ये चंदा उसके साथी संगठन राजीव गांधी चैरीटेबल ट्रस्ट (RGCT) को दिया गया था. लेकिन इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन (IRF) का दावा हैं कि उन्होंने ये चंदा राजीव गांधी फाउंडेशन (RGF) को ही दिया था और यह चंदा किसी चैरीटेबल ट्रस्ट को नहीं दिया गया था.

दरअसल  पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह सहित सोनिया गांधी, उनकी संतान राहुल गांधी और प्रियंका वाड्रा इस ट्रस्ट के ट्रस्टी हैं. हालाँकि राजीव गांधी फाउंडेशन (RGF) की और से दावा किया गया कि ये पैसा इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन (IRF) को लौटा दिया गया हैं.

कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि जैसे ही जाकिर से जुड़ी यह बात सामने आई पार्टी तरफ से पूरे दस्तावेजों की जांच की गई और पूरी रकम जाकिर की संस्था इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन को वापस कर दी गई. लेकिन IRF का कहना है कि उन्हें पैसे अबतक वापस भी नहीं मिले हैं.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?