गोरखपुर। हमेशा विवादों में रहने वाले योगी आदित्यनाथ ने उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी की पत्नी सलमा अंसारी की बात को जाईज ठहराते हुए उनके कही इस बात का समर्थन किया है की ॐ शब्द में शक्ति होती है जिससे ऑक्सिजन मिलती है.योगी ने कहा कि योग और ‘ओम’ को विवादित बनाना वास्तविकता को न समझने को ही प्रदर्शित करता है, कुछ लोग इसे अनावश्यक साम्प्रदायिक मसला बनाने का प्रयास कर रहे हैं।

ओम शब्द का मतलब समझाते हुए योगी ने कहा की उन्होंने(सलमा) ने बहुत अच्छी बात कही है। ओम-ओमकार इस सृष्टी की प्रथम धूनी है। तीन अक्षरों से मिलकर ‘अ’, ‘ऊ’ और ‘म’ से बना है। इसका उच्चारण करने से शरीर के चक्रों तथा सांस ग्रंथि पर प्रभाव पड़ता है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

योगी ने सलमा अंसारी के बयान का जिक्र करते हुए कहा कि उन्होंने ठीक कहा कि नमाज जो पढ़ते हैं, नमाज की जो पांच क्रियाएं हैं, वह अपने आप में योग ही हैं, लेकिन समस्या यह है कि जो लोग समझे तो बात कही जाये, जो ना समझ है वो समझने का प्रयास नहीं करना चाहते हैं।

योगी ने कहा कि आप रास्ता उनको दिखा सकते हैं जो सचमुच अंधा हो। जो अंधा होने का ढोंग करें, उसका कोई इलाज नहीं है। बता दें कि पिछले साल से 21 जून अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के रूप में मनाया जा रहा है।

Loading...