लखनऊ | उत्तर प्रदेश की सत्ता पर काबिज होते ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एक्शन मोड में लग रहे है. उनको शपथ लिए करीब 25 दिन का ही समय हुआ है लेकिन इस अवधि में उन्होंने कई बड़े फैसले लिए है. चाहे अवैध बूचडखानो पर कार्यवाही करने का फैसला हो या किसानो की कर्ज माफ़ी का. उन्होंने सभी फैसलों को बहुत जल्द लागू कर दिया. अब उनकी नजर राज्य के मुस्लिम समाज पर है.

Loading...

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक योगी अदित्यनाथ मुस्लिमो को लुभाने के लिए कुछ बड़े एलान कर सकते है. इनमे से कुछ के मसौदे भी तैयार हो चुके है. बस उनकी घोषणा करना बाकी है. खुद सरकार में अल्पसंख्यक मामलो के मंत्री मोहसिन रजा ने इसकी पुष्टि की है. उनके मुताबिक सरकार मुस्लिम लडकियों की शादी में होने वाले सभी खर्चे को वहन करने पर विचार कर रही है.

उन्होंने बताया की इसके लिए प्रस्ताव तैयार किया जा रहा है. इस प्रस्ताव में लडकियों को दी जाने वाली 20 हजार रूपए की आर्थिक मदद को हटाकर उनकी शादी का पूरा वहन सरकार अपने जिम्मे किया जायेगा. हालाँकि इस योजना में केवल मुस्लिम लडकियों को ही जगह नही मिलेगी बल्कि इसाई और सिख समुदाय की लडकियों को भी इसका लाभ दिया जाएगा.

चूँकि राज्य में मुस्लिमो की आबादी करीब 20 फीसदी है इसलिए इस योजना का सबसे ज्यादा लाभ भी इसी समुदाय को होगा. बताते चले की पूर्व की अखिलेश सरकार में गरीब लडकियों की शादी के लिए 20 हजार रूपए की आर्थिक सहायता दी जाती थी. लेकिन विपक्षी दल आरोप लगाते थे की इस योजना का लाभ केवल एक विशेष समुदाय को मिल रहा है. हालाँकि अब योगी सरकार ने खुलकर मुस्लिम समुदाय के लिए इस योजना को चलने का फैसला किया है.

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें