keshav maurya yogi adityanath pti 650x400 81505137106

keshav maurya yogi adityanath pti 650x400 81505137106

लखनऊ | उत्तर प्रदेश में योगी सरकार बनने के बाद से राम मंदिर मामला पूरी सुर्खिया बटोर रहा है. खुद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इस मुद्दे को लेकर काफी सक्रिय दिख रहे है. यही कारण है की शपथ लेने के बाद वह तीन बार अयोध्या का दौरा कर चुके है. बताया जा रहा है की योगी इस बार की दिवाली अयोध्या में ही मना रहे है. इसके लिए जोर शोर से तैयारिया भी की जा रही है.

इसी बीच खबर सामने आयी है की योगी सरकार अयोध्या एवं राम से जुड़े सभी स्थानों को विकसित करने की योजना बना रही है. इस योजना के अंतर्गत अयोध्या में दुनिया की सबसे बड़ी रामलला की मूर्ति स्थापित करने का फैसला किया गया है. बताया जा रहा है की अयोध्या में विवादित स्थल से थोड़ी दूर सरयू नदी के किनारे इस मूर्ति को स्थापित किया जाएगा. इसके लिए सरकार एनजीटी से भी इजाजत लेगी.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

यूपी के प्रमुख सचिव पर्यटन अवनीश अवस्थी ने मीडिया से बात करते हुए कहा की अयोध्या को विश्व पर्यटन मानचित्र पर लाने की योजना है. इसके लिए सरकार ने बहुत सारी योजनाएं बनाई हैं. मुख्यमंत्री छोटी दिवाली के दिन अयोध्या में खुद उन सभी योजनाओं की घोषणा करेंगे. बताते चले की छोटी दिवाली के दिन योगी आदित्यनाथ अयोध्या में होंगे. इस दौरान काफी भव्य कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे.

मिली जानकारी के अनुसार सरयू नदी के किनारे और आसपास के इलाके की भव्य सजावट की जायेगी. पुरे शहर को उसी तर्ज पर सजाया जायेगा जैसे त्रेता युग में श्रीराम के अयोध्या लौटने पर सजाया गया है. इसके लिए राम पैडी पर एक लाख सत्तर हजार दिए जलाये जाने की योजना है. इसके अलावा इंडोनेशिया और थाईलैंड के कलाकार राम के अयोध्या वापसी के प्रसंग का सरयू के किनारे मंचन भी करेंगे. इसी दिन योगी और उनके मंत्रिमंडल का भगवान् राम की पूजा वंदना करने का कार्यक्रम है.

Loading...