yashwant sinha 660 070812121243 092817053521

yashwant sinha 660 070812121243 092817053521

नई दिल्ली | पूर्व की अटल बिहारी वाजपेयी सरकार में वित्त मंत्री रहे यशवंत सिन्हा ने प्रधानमंत्री मोदी के उस बयान पर पलटवार किया है जिसमे उन्होंने आलोचना करने वालो को ‘शल्य’ करार दिया था. यशवंत सिन्हा ने खुद को भीष्म बताते हुए कहा की मैं अर्थव्यवस्था का चीर हरण ही होने दूंगा. इसके अलावा उन्होंने मोदी द्वारा कल पेश किये गए कुछ आंकड़ो पर भी सवाल खड़े किये. उन्होंने कहा की आंकड़े खतरनाक होते है.

गुरुवार को प्रधानमंत्री मोदी के कल दिए गए भाषण पर प्रतिक्रिया देते हुए यशवंत सिन्हा ने कहा की अर्थव्यवस्था पर प्रधानमंत्री का आगे आकर बोलना स्वागत योग्य कदम है. कम से कम अब अर्थव्यवस्था पर बात होनी शुरू हो गयी है. इस बात की मुझे ख़ुशी है. मोदी के आलोचकों पर किये गए प्रहारों पर बोलते हुए यशवंत सिन्हा ने कहा की यह जरुरी नही है की हम आशावादी है या निराशावादी, जरुरी है की सरकार हमारे या अन्य द्वारा उठाये गए मुद्दे पर गंभीरता से विचार करे.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

प्रधानमंत्री द्वारा महाभारत के ‘शल्य’ का जिक्र करने पर उन्होंने कहा की यह सब जानते है की शल्य , कौरवो के पक्ष में कैसे आये. दुर्योधन ने उन्हें छल के द्वारा अपने पक्ष में किया. लेकिन महाभारत में कई और भी किरदार थे. भीष्म उनमे से ही एक था. हालाँकि वह द्रोपदी के चीरहरण के समय चुप थे लेकिन मैं अर्थव्यवस्था का चीर हरण नही होने दूंगा. मोदी के कुछ आंकड़े पेश करने पर भी यशवंत ने सवाल उठाये.

उन्होंने कहा की आंकड़े काफी खतरनाक होते है. पिछली छह तिमाही से विकास दर नीचे आ रही है. आप पिछली सरकारो से अपनी तुलना कर बच नही सकते. जब चुनाव होंगे तो लोग नही पूछेंगे की आपने यूपीए के मुकाबले क्या काम किया? लोग पूछेंगे की आपने जो वादे किये वो पुरे क्यों नही किये? बताते चले की कल मोदी ने एक कार्यक्रम में कहा था की कुछ लोग ‘शल्य’ प्रवृत्ति के हैं, जिनकी आदत निराशा फैलाने की होती है और ऐसे लोगों की पहचान करना काफी जरूरी है.

Loading...