उद्योगपति मुकेश अम्बानी की पत्नी नीता अम्बानी को गृह मंत्रालय द्वारा ‘वाई’ श्रेणी की सुरक्षा दे दी गई है. नीता अंबानी की सुरक्षा अब सीआरपीएफ के हथियारबंद कमांडो करेंगे. होम मिनिस्ट्री के ऑफिसर्स के मुताबिक, हथियारों से लैस 10 सीआरपीएफ के कमांडोज नीता की सुरक्षा करेंगे.

सुरक्षा देने के इस फैसले के साथ सवाल भी उठने शुरू हो गए हैं. एनडीए सरकार में कड़ी सुरक्षा में रहने वाले वीवीआईपी की संख्या बढ़ती जा रही है. गृह मंत्रालय के मुताबिक विशेष सुरक्षा घेरे में रहने वाले वीआईपी 450 हैं. पिछली सरकार में इस लिस्ट में 350 लोग शामिल थे.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

कांग्रेस नेता राज बब्बर ने कहा कि “यह सरकार पैसे वालों की है और उनके लिए ही काम करती है. ऐसे में उन्हें ही सुरक्षा देगी गरीब भूखा है उससे उसको क्या?”

अंबानी दंपत्ति शायद देश में इकलौते कारोबारी होंगे जिन्‍हें सरकार ने वीवीआईपी सुरक्षा कवर मुहैया कराया है. मुकेश अंबानी को साल 2013 में सिक्‍योरिटी दी गई थी.

Loading...