Friday, January 28, 2022

शाहीन बाग की महिलाओं ने बीजेपी आईटी प्रमुख अमित मालवीय को भेजा मानहानि का नोटिस

- Advertisement -

शाहीन बाग में नागरिकता संशोधित कानून को लेकर विरोध प्रदर्शन कर रही महिलाओं ने बीजेपी आईटी प्रमुख अमित मालवीय को मानहानि का नोटिस भेजा है। इस मानहानि के नोटिस में मालवीय से तत्काल माफी मांगने और बतौर हर्जाना एक करोड़ रुपये देने की मांग की गई है।

गौरतलब है कि बीजेपी आईटी चीफ अमित मालवीय ने एक वीडियो शेयर किया था जिसमें दावा किया गया था कि महिलाओं को प्रदर्शन के लिए 500 रुपए प्रतिदिन दिए जा रहे हैं। मालवीय को ये नोटिस वकील महमूद पारचा के दफ्तर से भेजा गया है।

अमित मालवीय को ये नोटिस नफीसा बानो और शहज़ाद फातमा नाम की दो प्रदर्शनकारी महिलाओं की ओर से भेजा गया है। नोटिस में कहा गया है, “आपने प्रदर्शनकारी महिलाओं के खिलाफ झूठे आरोप लगाकर और उनको प्रचारित करके अपने संवैधानिक अधिकारों के तहत लोगों का ध्यान खींच रहे प्रदर्शनकारियों का अपमान किया है।”

नोटिस में आगे कहा गया है कि आपके द्वारा सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर पर पोस्ट किए गए एक वीडियो, जिसमें आरोप लगाया गया है कि प्रदर्शनकारी महिलाएं प्रदर्शन में शामिल होने के लिए प्रतिदिन 500-700 रुपये ले रही हैं, केवल झूठ ही नहीं है, बल्कि इससे प्रदर्शनकारियों को राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय समुदाय के बीच बदनाम किया गया है।

गौरतलब है कि नागरिकता संशोधन कानून, एनपीआर और एनआरसी के खिलाफ राजधानी के ओखला इलाके में स्थित शाहीन बाग में पिछले 36 दिन से बड़ी संख्या में महिलाओं के नेतृत्व में बड़ा प्रदर्शन जारी है। जिसकी चर्चा अब अंतराष्ट्रिय स्तर पर हो रही है।

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles