rbi-story_647_010417041849

दिल्ली | 8 नवम्बर को प्रधानमंत्री ने घोषण की थी की पुराने 500 और 1000 के नोट 30 दिसम्बर तक नजदीकी बैंक या डाकघरो में बदले जायेंगे. जो लोग इस अवधि में अपने पैसे नही बदलवा सके वो 31 मार्च तक आरबीआई की किसी भी शाखा में जाकर नोट बदल सकते है. प्रधानमंत्री की घोषणा के बाद बैंकों के बाहर लम्बी लम्बी कतारे लग गयी. इसके बाद वित्त मंत्रालय की तरफ से कहा गया की अभी 50 दिन है इसलिए जल्दी न करे.

इस दौरान आरबीआई ने करीब 64 बार नियम बदले. नोट बंदी के आखिरी दिन आरबीआई ने कहा की 31 मार्च तक डिक्लेरेशन भरकर पुराने नोट बदले जा सकेंगे. लेकिन मंगलवार को आरबीआई ने एक बार फिर नियम बदलते हुए नया सर्कुलर जारी कर दिया. इस सर्कुलर में कहा गया की केवल वो लोग जो 9 नवम्बर से 31 दिसम्बर के बीच विदेशो में थे , उन्ही लोगो के नोट बदले जायेंगे.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

आरबीआई का यह नियम अब कई लोगो के लिए मुसीबत का सबब बन गया है. आज आरबीआई के क्षेत्रीय कार्यालय में एक अजीब नजारा देखने को मिला. यहाँ एक महिला अपने बच्चो सहित पुराने नोट बदलवाने आई थी. लम्बी लाइन में लगने के बाद जब महिला गेट तक पहुंची तो गार्ड ने उसको वही रोक दिया. गार्ड ने महिला को बताया की उसके नोट नहीं बदले जायेंगे.

महिला ने गार्ड से कई मिन्नतें की लेकिन उसने उसको आगे नही जाने दिया. इस पर महिला ने कुछ ऐसा किया जिसे देखकर वहां आये लोग सन्न रह गए. महिला ने विरोध जताने के लिए अपने कपडे उतार दिए और टॉपलेस हो गयी. यह देखकर वहां मौजूद गार्ड के हाथ पैर फूल गए. उसने तुरंत पुलिस को फ़ोन किया. कुछ देर बाद पुलिस वहां पहुंची और महिला को उसके बच्चो समेत पुलिस स्टेशन लेकर चली गयी.

Loading...