नई दिल्ली | देश की सर्वोच्च अदालत में एक अजीब तरह का केस पहुंचा है. यहाँ एक महिला ने अदालत से अपनी शादी बचाने की गुहार लगाई है. महिला की शादी एक बड़ी अजीब वजह से मुश्किलों के दौर से गुजर रही है. दरअसल महिला के पति को पोर्न देखने की लत लग गयी है जिसकी वजह से उनका दिमाग दूषित हो गया है और मानसिक दिवालियापन के शिकार हो गए है.

मुंबई की रहने वाली एक महिला ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका डाल, वेबसाइट पर आसानी से मिलने वाले पोर्न कंटेंट पर बैन लगाने की मांग की है. उनका कहना है की वेबसाइट पर पोर्न कंटेंट आसानी से मिलने की वजह से युवाओ से लेकर उम्रदराज व्यक्ति इसकी चपेट में आ रहा है जिसकी वजह से पारिवारिक मूल्यों का हास् हो रहा है और लोग मानसिक दिवालियापन के शिकार हो रहे है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

महिला ने कोर्ट को बताया की पोर्न की वजह से उनकी 30 साल की शादीशुदा जिन्दगी टूट की कगार पर है. उनके 55 वर्षीय पति को पोर्न की लत इस कदर लग चुकी है की वो पोर्न देखने के अलावा कुछ काम करना पसंद नही करते. महिला एक समाज सेविका और और दो बच्चो की माँ है. महिला का कहना है की पति की लत की वजह से वो और उनके बच्चे उनसे दूर होने लगे है.

महिला ने बताया की उनके पति को यह लत 2015 में लगी. इससे पहले उनकी 30 सालो की शादीशुदा जिन्दगी बहुत खुशगवार गुजर रही थी. लेकिन उनकी लत की वजह से यह अब टूट के कगार पर है. महिला का कहना है की अगर पोर्न एक उम्र दराज व्यक्ति को इस कदर अपनी चपेट में ले सकती है तो युवाओ का क्या हाल हो सकता है , यह सोचकर ही भयावाह लगता है. महिला ने कोर्ट से वेबसाइट पर मिलने वाले पोर्न कंटेंट पर प्रतिबंध लगाकर उनकी शादी बचाने की अपील की.

Loading...