baba-ramdev_147114579184_650x425_081416091028

हरिद्वार | देश में स्वदेशी उत्पादों को बढ़ावा देने की अपील करने वाले योग गुरु बाबा रामदेव ने इस बात का खुलासा किया है की उनके बाद पतंजली आयुर्वेद को कौन संभालेगा. बाबा रामदेव ने ट्वीट कर यह बताया है की उनका उत्तराधिकारी कौन होगा. पतंजलि आयुर्वेद का कारोबार पिछले चार सालो में लगातार बढ़ा है. बाबा रामदेव को उम्मीद है की 2020 तक यह बढ़कर एक लाख करोड़ तक पहुँच जाएगा.

शुक्रवार को बाबा रामदेव ने अपने उत्तराधिकारी के बारे में अचानक से ट्वीट कर हलचल मचा दी. अपने ट्वीट में रामदेव ने लिखा की पतंजली का उत्तराधिकारी कोई व्यापारी नही होगा. ये सन्यासी पुरुष और महिलाये ही रामदेव और आचार्य बालकृष्णन की विरासत को संभालेंगे. बाबा रामदेव का यह ट्वीट किसकी और इशारा करता है यह तो रामदेव ही बता सकते है लेकिन अपने उत्तराधिकारी की बात करके रामदेव ने सियासी हलके में कुछ हलचल जरुर कर दी है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

पतंजलि आयुर्वेद देश की सबसे तेजी से बढती कंपनी है. पतंजली के प्रमुख बाबा रामदेव है लेकिन आचार्य बालाकृष्णन इसकी देखरेख करते है. वो पतंजलि के सीईओ के रूप में काम कर रहे है. वही बाबा रामदेव के भाई भरत यादव उनका सहयोग करते है. पतंजली का कारोबार पिछले चार सालो में 100 फीसदी की रफ़्तार से बढ़ा है. इसका फायदा यह हुए की बालाकृष्णन फोर्ब्स की सूची में 25वा स्थान प्राप्त करने में सफल रहे.

दो दिन पहले ही बाबा रामदेव ने कहा था की हमारा लक्ष्य 2020 तक , पतंजली का उत्पादन 1 लाख करोड़ तक पहुँचाने का है. अगले दो तीन सालो में हम पतंजली का इन हाउस प्रोडक्शन 50 हजार करोड़ तक पहुँचाना चाहते है. फिहाल हम 100 फीसदी की ग्रोथ से आगे बढ रहे है, इस साल भी हम इसी रफ़्तार से बढ़ रहे है. हम हर साल 25 लाख करोड़ रूपए के उत्पाद आयत करते है. स्वदेशी उत्पादों को अपनाकर हम इसे कम कर सकते है.

Loading...