Friday, July 30, 2021

 

 

 

वसीम रिजवी की मोदी से मांग – मदरसों को करे बंद, वरना आधे मुसलमान आईएसआईएस से जुड़े होंगे

- Advertisement -
- Advertisement -

अपने विवादित बयानों को लेकर सुर्खियों में रहने वाले शिया वक्फ बोर्ड अध्यक्ष वसीम रिजवी ने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर देश भर के सभी मदरसों को बंद करवाने की मांग की है। उन्होंने इस पत्र में कहा है कि मदरसों में छात्रों में आंतकी संगठन आईएसआईएस की विचारधारा फैलाई जा रही है।

वसीम रिजवी ने इस पत्र में लिखा है कि जल्द ही प्राथमिक मदरसे बंद न हुए तो पंद्रह साल बाद देश का आधे से ज्यादा मुसलमान आईएसआईएस विचारधारा का समर्थक हो जाएगा। उन्होंने पत्र में लिखा है, ‘पूरी दुनिया में यह देखा गया है कि कोई भी मिशन चलाने के लिए बच्चों को निशाना बनाया जाता है। इस समय दुनिया में आईएसआईएस एक खतरनाक आंतकी संगठन है जो धीरे-धीरे पूरी दुनिया में मुस्लिम आबादी वाले क्षेत्रों में अपनी पकड़ बना रहा है।’

शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन ने आगे लिखा, ‘कश्मीर में बहुत बड़े तादाद में आईएसआईएस के समर्थक खुले तौर पर दिखाई दे रहे हैं। बहुत बड़े पैमाने पर मदरसे में इस्लामिक तालीम लेने वाले बच्चों को आर्थिक मदद पहुंचा कर इस्लामिक शिक्षा के नाम पर उनको दूसरे धर्मों से काटा जा रहा है। देश के ग्रामीण क्षेत्रों में चल रहे प्राथमिक मदरसे चंदे के लालच में हमारे बच्चों का भविष्य खराब करने पर आमादा हैं। उन्हें सामान्य शिक्षा से दूर रख कर उनमें इस्लाम के नाम पर कट्टरपंथी सोच पैदा की जा रही है। यह देश के लिए एक बड़ा खतरा है।’

रिजवी ने आगे लिखा है, ‘परिस्थितियों को देखते हुए देश हित और मुस्लिम बच्चों के अच्छे भविष्य के लिए देश के सभी प्राथमिक मदरसों को बंद कर दिया जाए। हाई स्कूल पास करने के बाद अगर बच्चा स्वयं धर्म प्रचार की तरफ जाना चाहता है तो वह मदरसे में दाखिला ले सकता है।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles