कोझिकोड | केरल में आरएसएस के संघ प्रचारक कुंदन चंद्रावत के बयान पर बवाल जारी है. पुरे प्रदेश में आरएसएस और कम्युनिस्ट कार्यकर्ताओ के बीच राजनितिक हिंसा अपने चरम पर है. इस हिंसा में अभी तक 8 बीजेपी और आरएसएस कार्यकर्त्ता घायल हो चुके है. यही नही आरएसएस ने आरोप लगाया है की उनके दफ्तर पर हुए बम विस्फोट में भी 4 बीजेपी कार्यकर्त्ता घायल हुए.

मिली जानकारी के अनुसार रविवार को हुई हिंसा में चार आरएसएस और एक बीजेपी कार्यकर्त्ता घायल हो गया. आरोप है की इस हिंसा में CPM कार्यकर्ताओ का हाथ है. इस मामले में पुलिस ने त्वरित कार्यवाही करते हुए एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है. वही सभी घायलों को अस्पताल पहुंचा दिया गया.  उधर खबर है की पुलिस ने आरएसएस प्रचारक कुंदन चंद्रावत के खिलाफ भी मामला दर्ज किया है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

खबर है की पुलिस ने कुंदन के खिलाफ अपराधिक मामला दर्ज किया है. मालूम हो की कुंदन चंद्रावत ने मुख्यमंत्री पी विजयन का सर काटकर लाने वाले को एक करोड़ रूपए इनाम देने की घोषणा की थी. उन्होंने विजयन को आरएसएस के 300 कार्यकर्ताओ की मौत पर आँखे मूंदे रखने का जिम्मेदार बताया. कुंदन की इस घोषणा के कुछ घंटे बाद ही प्रदेश में राजनितिक हिंसा शुरू हो गयी. बीजेपी और आरएसएस का आरोप है की सीपीएम् कार्यकर्त्ता लगातार उनके कार्यकर्ताओ पर हमला कर रहे है.

उधर आरएसएस ने कुंदन के बयान से अपना पल्ला झाड़ते हुए कहा की हम हिंसा का समर्थन नही करते और यह उनका निजी बयान है.  यही नही आरएसएस ने कुंदन पर कार्यवाही करते हुए उन्हें पद मुक्त भी कर दिया. कुंदन , उज्जैन महानगर के प्रचार प्रमुख पद पर कार्यरत थे. वही कुंदन पर अपराधिक मामला दर्ज होने के बाद भी फिलहाल उनकी गिरफ़्तारी नही हुई है.

Loading...