चेन्नई | चेन्नई में जलीकट्टू को लेकर पिछले कई दिनों से चल रहा विरोध प्रदर्शन आज हिंसक हो उठा. प्रदर्शनकारियो ने कई गाडियों को फूंक डाला और एक थाने पर हमला करते हुए उसके नजदीक आग लगा दी. हालांकि पुलिस ने स्थिति को नियंत्रण में करते हुए प्रदर्शनकारियो को वहां से भगाकर आग पर काबू पाने की कोशिश की. चेन्नई के अलावा भी तमिलनाडु के कई और इलाको में अभी भी प्रदर्शन जारी है.

गौरतलब है की जलीकट्टू के आयोजन को लेकर पुरे तमिलनाडु में पिछले कई दिनों से विरोध प्रदर्शन हो रहे है. मामले की गंभीरता को देखते हुए राज्य सरकार ने इस पर एक अध्यादेश लाकर रविवार को कुछ जगहों पर जलीकट्टू का आयोजन कराया. अध्यादेश के पास होने के बाद उम्मीद थी प्रदर्शनकारी अपना प्रदर्शन रोक देगे, लेकिन ऐसा हुआ नही. सोमवार को भी प्रदर्शनकारी मरीन बीच पर डंटे रहे.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

प्रदर्शनकारी चाहते थे की जलीकट्टू को लेकर सरकार कोई स्थायी समाधान ढूंढे और उसको लागु करे. रविवार को पुलिस ने प्रदर्शनकारियो से बात कर उन्हें सोमवार तक मरीन बीच खाली करने का निर्देश दिया था लेकिन प्रदर्शनकारियो ने पुलिस के निर्देशों को नजरंदाज कर दिया. सोमवार सुबह पुलिस जब मरीन बीच पहुंची तो प्रदर्शनकारिय ने बीच से जाने से मना कर दिया.

इस पर पुलिस ने उनको काफी समझाया लेकिन जब वो नही माने तो उन्होंने प्रदर्शनकारियो को वहां से खदेड़ना शुरू कर दिया. पुलिस की कार्यवाही से नाराज लोगो जाने की बजाय वहां मानव श्रंखला बनाकर खड़े हो गए. मज़बूरी में पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा. लाठीचार्ज से गुस्साए प्रदर्शनकारियो ने आस पास की गाडियो में आग लगानी शुरू कर दी एवं आइस हाउस पुलिस थाना पर हमला कर दिया. फिलहाल पुलिस ने प्रदर्शनकारियो को वहां से खदेड़ दिया है और आग बुझाने का काम शुरू कर दिया है.

Loading...