उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी की पत्नी सलमा अंसारी ने तीन तलाक के मुद्दे को लेकर कहा कि  तीन बार तलाक बोलने से तलाक नहीं होता है, इसलिए मैं कहती हूं कि कुरान पढ़िये. अंसारी ने कहा कि जिन्‍हें तलाक को लेकर दिक्‍कत हो, वे कुरान पढ़ें, हल मिल जाएगा.

सलमा ने कहा, ”कुरान पढ़ाएं तो आप को खुद ही उसका हल मिल जाएगा. इसको (ट्रिपल तलाक) बना रखा है बेकार का मुद्दा. ऐसी कोई चीज है ही नहीं.” उन्‍होंने आगे कहा, ”बहुत सी औरतें निकलकर आएंगी क्‍योंकि जिन्‍होंने कुरान नहीं पढ़ा, उन्‍हें मालूम ही नहीं है. बात तो ये है कि आप अरबी में कुरान पढ़ती हैं और ट्रांसलेशन तो पढ़ते ही नहीं आप लोग. जो मुल्‍ला, मौलाना ने कहा, वही सच मान लिया. कुरान पढ़के देखिए, हदीस पढ़‍िए, देखिए रसूल ने क्‍या कहा है.”

लमा ने मुस्लिम महिलाओं से कहा, ”महिलाओं में इतनी हिम्‍मत होनी चाहिए कि खुद कुरान पढ़ें, उसके बारे में सोचें, नॉलेज हासिल करें कि शरीयत क्‍या कहता है. किसी को ऐसे ही फॉलो ही नहीं करना चाहिए. सबसे बड़ा रास्‍ता दिखाने वाला कुरान है. जब आपने कुरान को ही नहीं समझा तो कोई भी आपको गुमराह कर देगा.”

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

सलमा ने कहा कि ‘यह कोई मुद्दा नहीं है. बिलकुल बेकार की चीज है. कोई कह दे कि तलाक, तलाक, तलाक, ऐसे कोई तलाक नहीं होती. इसीलिए तो कह रही हूं कि कुरान पढ़‍िए.’

Loading...