कठुआ रे’प और ह’त्या मामले में सुनवाई पूरी, 10 जून को फैसला आएगा

5:12 pm Published by:-Hindi News
kathua culprits minister lal singh.jpg.image.784.410

चंडीगढ़. जम्मू-कश्मीर के कठुआ में हुए सामूहिक दुष्कर्म और हत्या के मामले में 10 जून को फैसला सुनाया जाएगा। पठानकोट कोर्ट में इस मामले की सुनवाई पूरी हो चुकी है। सुप्रीम कोर्ट ने पिछले साल कठुआ मामले को जम्मू-कश्मीर से बाहर पंजाब के पठानकोट की कोर्ट में स्थानांतरित कर दिया था।

विशेष सरकारी अभियोजक जे के चोपड़ा ने बताया कि पठानकोट की अदालत में जिला और सत्र न्यायाधीश तेजविंदर सिंह ने घोषणा की कि बंद कमरे में सुनवाई पूरी होने के बाद वह 10 जून को फैसला सुना सकते हैं। अधिकारियों ने कहा कि बचाव पक्ष के वकीलों ने अपनी अंतिम दलीलें दीं जिसके बाद चोपड़ा के नेतृत्व में अभियोजन पक्ष ने संक्षिप्त बयान दिया।

ध्यान रहे पिछले साल 10 जनवरी को अगवा की गयी आठ साल की बच्ची को कठुआ जिले के एक छोटे से गांव के मंदिर में कथित तौर पर बंधक बनाकर उसके साथ बलात्कार किया गया। उसे चार दिन तक बेहोश रखा गया और बाद में उसकी हत्या कर दी गयी। 12 जनवरी को उसके पिता ने हीरानगर थाने में शिकायत दर्ज कराई थी। 17 जनवरी को मासूम की लाश क्षत-विक्षत हालत में जंगल में मिली थी।

kathua asifa rape protest

इस केस में सांझी राम, उसका बेटा विशाल, एसपीओ दीपक खजूरिया उर्फ दीपू, सुरिंदर वर्मा, प्रवेश कुमार उर्फ मन्नू, हेड कांस्टेबल तिलक राज और सब-इंस्पेक्टर अरविंद दत्ता समेत आठ लोग आरोपी हैं। बच्ची का अपहरण कर जिस मंदिर में रखा गया था, सांझी राम उसका पुजारी था।

इस मामले में दो विशेष पुलिस अधिकारियों दीपक खजुरिया और सुरेंद्र वर्मा को भी गिरफ्तार किया गया। सांजी राम से कथित तौर पर चार लाख रुपये लेने और महत्वपूर्ण सबूतों को नष्ट करने के मामले में हैड कांस्टेबल तिलक राज एवं एसआई आनंद दत्ता को भी गिरफ्तार किया गया।

Loading...

खानदानी सलीक़ेदार परिवार में शादी करने के इच्छुक हैं तो पहले फ़ोटो देखें फिर अपनी पसंद के लड़के/लड़की को रिश्ता भेजें (उर्दू मॅट्रिमोनी - फ्री ) क्लिक करें