नई दिल्ली | स्वीडन की राजधानी स्टॉकहोम में शुक्रवार को हुए एक आतंकी हमले में चार लोगो की मौत हो गई. इस घटना प्रधानमंत्री मोदी और राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने दुःख जताया है. उन्होंने ट्वीट कर मृतको के परिवार के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की है. दरअसल स्टॉकहोम में भारतीय दूतावास से करीब 100 मीटर की दूरी पर एक आतंकी ने तेज रफ़्तार ट्रक को लोगो पर चढ़ा दिया.

स्वीडन के प्रधानमंत्री ने इस घटना को आतंकी हमला करार दिया है. खबर यह भी है की आतंकी ने लोगो के ऊपर फायरिंग भी की. हालाँकि स्वीडन में हुए आतंकी हमले की पुरे देश ने निंदा की है लेकिन मोदी और वसुंधरा राजे के ट्वीट से सोशल मीडिया पर उनके खिलाफ गुस्सा फुट पड़ा. लोगो ने दोनों पर ढोंग करने का आरोप लगाते हुए कहा की आप पूरी दुनिया में होने वाली घटनाओं पर दुःख व्यक्त करते हो लेकिन अलवर जैसी घटना पर चुप रहते हो.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

एक यूजर ने वसुंधरा राजे के ट्वीट पर प्रतिक्रिया देते हुए लिखा की अलवर तो आपके ही प्रदेश राजस्थान में आता है. आपको स्टॉकहोम में हुई घटना पर दुःख है लेकिन अलवर में गौरक्षा के नाम पर पहलु खान को पीट पीट कर मार डाला , उस पर आपके मुंह से एक शब्द नही निकल रहा. लोगो ने इस मामले में मोदी की चुप्पी पर सवाल उठाये. एक यूजर लिखता है की अगर हसीना (बांग्लादेश की प्रधानमंत्री) ने अलवर में हुई घटना पर आपसे पुछा लिया तो उनको क्या जवाब दोगे.

एक यूजर लिखता है की मोदी जी आप पूरी दुनिया में होने वाली घटना पर दुःख जताते हो लेकिन अपने ही देश में गौरक्षको की गुंडागर्दी पर चुप रहते हो. इसी मामले में विपक्ष ने भी मोदी पर हमला बोला. कांग्रेस के कपिल सिब्बल ने कहा की पुरे देश में उना से लेकर दादरी तक और अब अलवर में गौरक्षा के नाम पर हिंसा हो रही है लेकिन मोदी जी इन घटनाओं पर कुछ नही बोलते. उनके मंत्रियो का तो मानना है की जैसे देश में कुछ हुआ ही नही.

Loading...