Wednesday, September 22, 2021

 

 

 

स्मृति ईरानी के हादसे पर बयान बदल रही है पुलिस

- Advertisement -
- Advertisement -

आगरा के डॉक्टर रमेश नागर की यमुना एक्सप्रेस वे पर हुए सड़क हादसे में मौत के बाद शुरू हुआ विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। 5 मार्च को हुए हादसे के बाद मृतक के परिवार ने आरोप लगाया था कि ऐक्सिडेंट स्मृति ईरानी के काफिले की कार से हुआ था।

शनिवार को मांठ पुलिस स्टेशन इंचार्ज ने दावा किया कि ऐक्सिडेंट दिल्ली निवासी डिंपल अरोड़ा की कार से हुआ था। उन्होंने इस हादसे में डिंपल की भूमिका भी स्वीकार की थी। हालांकि, उनके सीनियर और एरिया सर्कल ऑफिसर संजय सिंह ने कुछ ही घंटों बाद बताया कि पुलिस ने अब तक आरोपी महिला का बयान नहीं लिया है।

सीनियर अधिकारी ने बताया कि आरोपी महिला किंग्सवे कैंप में रहती है और फिलहाल उसका पता नहीं है। संजय सिंह मांठ के एरिया सर्कल ऑफिसर होने के साथ ही डेप्युटी एसपी भी हैं। उन्होंने हमारे सहयोगी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया कि अरोड़ा ने फिलहाल मथुरा पुलिस को कोई आधिकारिक बयान नहीं दिया है और उनका अब भी कुछ पता नहीं है। उन्होंने आगे कहा, ‘यह भी ध्यान रखने लायक बात है कि यमुना एक्सप्रेस वे पर दुपहिया वाहन को ले जाने की इजाजत नहीं है, लेकिन पिछले शनिवार को डॉ. रमेश नागर दो छोटे बच्चों को साथ लेकर इस पर बाइक से जा रहे थे।’

स्टेशन ऑफिसर दुर्गेश कुमार ने दावा किया है, ‘हमारे जांच अधिकारी ने दिल्ली में डिंपल अरोड़ा से मुलाकात की थी और उनका बयान लिया था। इसमें उन्होंने एक्सप्रेस वे पर डॉक्टर की बाइक को टक्कर मारने की बात कबूली है।’ केस के जांच अधिकारी और सब इन्सपेक्टर राजेंदर सिंह ने कहा है, ‘मैं 8 मार्च को अरोड़ा से दिल्ली के मॉडल टाउन में उसके भाई के घर पर मिला था। शुरू में उसने नोटिस के जवाब में कहा कि दुर्घटना के वक्त उसका ड्राइवर कार चला रहा था। बाद में मैंने उसके ड्राइवर तेज बहादुर ने इनकार किया कि वह कार में नहीं था। इस बावत अरोड़ा को फिर से नोटिस दिया गया तो उसने मौखिक तौर पर स्वीकार किया कि वही कार चला रही थी। हालांकि, उसने कहा कि ड्राइवर रॉन्ग साइड से आ रहा था।’ टाइम्स ऑफ इंडिया से अरोड़ा से बात करने की कोशिश की, पर बात नहीं हो सकी। (NBT)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles