लखनऊ | शनिवार को उत्तर प्रदेश के नए डीजीपी सुलखान सिंह ने पदभार संभाल लिया. उन्होंने जावीद अहमद की जगह प्रदेश का नया डीजीपी नियुक्त किया गया है. पदभार सँभालते ही सुलखान सिंह ने अपनी प्राथमिकताये गिनाते हुए कहा की प्रदेश में किसी को भी कानून हाथ में लेने की छूट नही होगी. इसके अलावा उन्होंने गौरक्षा और एंटी रोमियो स्क्वाड पर भी अपना विज़न सामने रखा.

सुलखान सिंह ने कहा की अगर पुलिस बल बिना किसी दबाव के निष्पक्ष कार्यवाही करे तो बाकि समस्याए अपने आप हल हो जाएगी. इसलिए मैं इस बात को सुनिश्चित करूँगा की पुलिस बल निष्पक्षता के साथ कार्यवाही करे. इसके अलावा वांछित अपराधियों की धरपकड़ के लिए भी सम्बंधित अधिकारियो को दिशा निर्देश दिए जायेंगे. हम चाहते है की पुलिस का मनोबल उंचा रहे तभी वो अच्छे से काम कर पाएंगे.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इसके अलावा सुलखान सिंह ने एफआईआर दर्ज नही करने के मामले में कहा की हम 100 फीसदी एफआईआरी सुनिश्चित करेंगे. इसके अलावा पुलिस में नीचले स्तर से लेकर अधिकारियो तक की तैनाती मेरिट के आधार पर की जाएगी. मैं यह भी मानता हूँ की पुलिस को हफ्ते में एक दिन की छुट्टी मिलनी चाहिए. इसके अलावा नाईट शिफ्ट के बाद भी आराम मिलना जरुरी है.

एंटी रोमियो स्क्वाड के बारे में सुलखान सिंह ने कहा की हम इसे एक अभियान की तरह नही चलाएंगे बल्कि यह नार्मल पोलिसिंग की तरह ही संचालित की जाएगी. इसके अलावा पुलिस सादी वर्दी में मनचलों पर निगाह रखेगी और दोषियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाएगी. गौरक्षा के नाम पर होने वाली गुंडागर्दी पर उन्होंने कहा की किसी को भी गौरक्षा के नाम पर कानून अपने हाथ में लेने का अधिकार नही है. ऐसे लोगो पर भी सख्त कार्यवाही होगी.

Loading...