Thursday, June 24, 2021

 

 

 

भगोड़े माल्या के प्रत्यर्पण को यूके ने दी मंजूरी, फैसले के खिलाफ करेगा अपील

- Advertisement -
- Advertisement -

ब्रिटेन के गृह मंत्रालय ने भारतीय बैंकों का हजारों करोड़ रुपये लेकर फरार विजय माल्या के प्रत्यर्पण आदेश पर मुहर लगा दी है। ब्रिटिश होम सेक्रेटरी ने विजय माल्या के प्रत्यर्पण की इजाजत दे दी है। हालांकि, माल्या को अपील करने का मौका मिलेगा।

बता दें कि इससे पहले, ब्रिटेन की हाई कोर्ट ने भी पिछले साल माल्या के प्रत्यर्पण का आदेश दिया था। इसी बीच माल्या ने देर रात ट्वीट कर कहा कि वह फैसले के खिलाफ अपील करेगा। माल्या के पास अपील के लिए 14 दिन का वक्त है। वह लंदन के हाईकोर्ट में अपील कर सकता है।

https://twitter.com/TheVijayMallya/status/1092478190940024832

माल्या की अपील पर सबसे पहले एक जज वाले हाईकोर्ट की बेंच में सुनवाई होगी। यह जज भी यदि प्रत्यर्पण के आदेश पर मुहर लगाते हैं, लेकिन आगे अपील की अनुमति भी दे देते हैं तो उसके बाद माल्या की अपील पर हाईकोर्ट के दो जज सुनवाई करेंगे। इसके बाद माल्या सुप्रीम कोर्ट में अपील कर सकता है कि उसके केस की सुनवाई वहां की जाए। अगर सुप्रीम कोर्ट यह मंजूर कर लेता है तो पूरे मामले की सुनवाई पूरी होने में करीब 18 महीने लग जाएंगे। लेकिन यदि अपील के पहले चरण में ही हाईकोर्ट ने प्रत्यर्पण पर मुहर लगा दी और माल्या को आगे अपील की इजाजत नहीं दी, तो माल्या को जितनी जल्दी हो सके प्रत्यर्पित कर भारत लाया जा सकेगा

केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने ट्वीट किया, “माल्या के प्रत्यर्पण का एक और रास्ता साफ हुआ। जबकि विपक्ष शारदा स्कैम के घोटालेबाजों के लिए रैलियां कर रहा है।”

बता दें कि माल्या पर भारतीयों बैंकों के 9,000 करोड़ रुपए बकाया हैं। वह मार्च 2016 में लंदन भाग गया था। भारत ने पिछले साल फरवरी में यूके से उसके प्रत्यर्पण की अपील की थी। भारत में फ्रॉड और मनी लॉन्ड्रिंग के आरोपों पर अप्रैल 2017 में स्कॉटलैंड यार्ड में माल्या की गिरफ्तारी हुई लेकिन वह जमानत पर छूट गया। उसके प्रत्यर्पण का मामला 4 दिसंबर 2017 से लंदन की अदालत में चल रहा था। इस पर 10 दिसंबर 2018 को फैसला आया था।

माल्या के खिलाफ 6 आरोप

क्रमांक आरोप जांच एजेंसी
1 मनी लॉन्ड्रिंग प्रवर्तन निदेशालय
2 लोन की रकम डायवर्ट सीबीआई
3 किंगफिशर एयरलाइंस में वित्तीय अनियमितताएं एसएफआईओ
4 शेयरों की राउंड ट्रिपिंग सेबी
5 सर्विस टैक्स नहीं चुकाया आयकर विभाग
6 विल्फुल डिफॉल्टर डेट रिकवरी ट्रिब्यूनल, बेंगलुरु

माल्या पर इन 5 बैंकों का सबसे ज्यादा कर्ज

बैंक लोन (रुपए)
एसबीआई 1600 करोड़
आईडीबीआई बैंक 800 करोड़
पीएनबी 800 करोड़
बैंक ऑफ इंडिया 650 करोड़
बैंक ऑफ बड़ौदा 550 करोड़

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles