why-apex-court-took-the-decision-of-playing-national-anthem-in-movie-hall_1480585113

चेन्नई | कुछ दिन पहले सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद देश के सभी सिनेमा घर में राष्ट्रगान बजाना अनिवार्य हो गया. कोर्ट के आदेशानुसार उस समय सभी लोग राष्ट्रगान के सम्मान में खड़े होंगे और पर्दे पर तिरंगा झंडा दिखाई देता रहेगा. कोर्ट के इस आदेश के बाद देश भर में बहस का एक दौर शुरू हो गया. कुछ लोगो का तर्क था की अगर राष्ट्रगान बजने के दौरान कोई खड़ा नही हुआ तो उस पर कौन कार्यवाही करेगा. क्या सिनेमा घर में फिल्म देख रही भीड़ उस समय उन लोगो को सजा देगी?

अभी इन सवालो का जवाब भी नही मिला था की चेन्नई में इसी से सम्बंधित एक घटना सामने आई है. मिली जानकारी के अनुसार , फिल्म देख रहे तीन लोगो पर एक भीड़ ने इसलिय हमला कर दिया क्योकि वो राष्ट्रगान के समय सेल्फी ले रहे थे. इनमे दो छात्राए है और एक युवक. इस घटना के बाद सवाल उठता है की अब भीड़ इन्साफ करेगी?

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

टाइम्स ऑफ़ इंडिया में छपी खबर के अनुसार चेन्नई के अशोक नहर स्थित काशी सिनेमा हाल में चेन्नै-28-11 फिल्म लगी हुई है. फिल्म के सुबह साढ़े ग्यारह बजे के शो में दो छात्राए और एक युवक सिनेमा हॉल पहुंचे. शो शुरू होने से पहले जब राष्ट्रगान बजना शुरू हुआ तो इन तीनो ने खड़ा होना मुनासिब नही समझा और खुद को सेल्फी खींचने में व्यस्त रखा. यह बात कुछ युवको को नागवार गुजरी.

आरोप है की इंटरवल होने पर करीब 20 लोग उनके पास आये और उनके साथ मारपीट शुरू कर दी. इनमे से एक छात्रा शीला ने बताया की वो यहाँ एक कॉलेज में लॉ की पढ़ाई कर रही है. हमारा इरादा राष्ट्रगान का अपमान करना नही था. लेकिन उन लोगो ने हमारे साथ मारपीट शुरू कर दी. हमारा उत्पीडन किया गया. यहाँ तक उन्होंने हमें जान से मारने की भी धमकी दी. इस घटना के बाद लोगो में फिल्म देखने को लेकर घबराहट बनी हुई है.

Loading...