दिल्ली के प्रसिद्ध हजरत निजामुद्दीन दरगाह के दो सूफी खादिम पाकिस्तान में रहस्यमय हालात में लापता हो गए हैं. भारत सरकार ने उनकी गुमशुदगी का मामला पाकिस्तान के सामने उठाया हैं.

दरगाह के मुख्य खादिम सैयद आसिफ़ अली निज़ामी और उनके भतीजे नाज़िम निजामी लाहौर की दाता दरगाह में जियारत के लिए गए थे. उन्हें आखिरी बार लाहौर की दाता दरगाह में देखा गया. उन्हें लाहौर से कराची जाना था. लेकिन फ्लाइट में बैठने से पहले ही उनका फोन बंद आ रहा हैं.

परिवार वालों का कहना हैं कि आसिफ को कराची जाने की इजाजत दी गई जबकि नामुकम्मल कागजात की बुनियाद पर नाजिम को लाहौर हवाई अड्डे पर रोक दिया गया. परिवार वालों का कहना है कि बहुत कोशिश करने के बाद भी संपर्क नहीं हो पा रहा है. इसके बाद आसिफ अली निजामी के बेटे साजिद ने विदेश मंत्रालय को इसकी जानकारी दी.

आसिफ निजामी के बड़े बेटे साजिद अली निजामी ने IANS से कहा कि मेरे पिता सैयद अली निजामी (80) और उनके भतीजे नाजिम निजामी बुधवार शाम से लाहौर और कराची एयरपोर्ट्स से लापता है. वे दोनों 6 मार्च को बाबा फरीद की दरगाह पर चद्दर चढ़ाने गए थे. 14 मार्च को लाहौर के दाता दरबार में उन्होंने चद्दर चढ़ाई. अगले दिन वे लाहौर एयरपोर्ट पर 4.30 बजे फ्लाइट लेने पहुंचे. लाहौर एयरपोर्ट पर मेरे भाई को अधिकारियों ने कागजी कार्रवाई को लेकर रोक लिया और मेरे पिता को फ्लाइट में जाने को कहा. इसके बाद से उनका मोबाइल फोन स्विच ऑफ आ रहा है.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?