महिला IPS के विवादित ट्वीट पर खड़ा हुआ हंगामा अब गृह मंत्रालय तक पहुंचा

नई दिल्ली : अब आईपीएस मोनिका भारद्वाज के tweet पर सरकार में भी हंगामा खड़ा हो गया है। गृह मंत्रालय और दिल्ली पुलिस मुख्यालय ने इस मामले को गंभीरता से लिया है और अब इस पर महिला आईपीएस से सफाई भी मांगी जा सकती है। उनका कहना है कि आईपीएस का घटना के प्रति जागरूक रवैया अपनाना तो ठीक है लेकिन सम्प्रदाय का ज़िक्र करना सही नही है। जबकि उस घटना के दौरान महिला आईपीएस छुट्टी पर थी और अभी भी छुट्टी पर हैं।
23 मार्च को दिल्ली के विकासपुरी में डॉक्टर पंकज नारंग की कुछ लोगों ने निर्मम हत्या कर दी थी। जिस दिन यह घटना हुई उसी दिन टी -20 वर्ल्ड कप में भारत ने बांग्लादेश को हरा दिया। कुछ लोगों ने सोशल मीडिया पर  अफवाह फैलाकर इस घटना को साम्प्रदायिक रंग देने की कोशिश की। उनका कहना था कि डॉ. नारंग की हत्या करने वाले बांग्लादेशी थे। इस घटना पर आईपीएस मोनिका भारद्वाज ने  ट्विटर पर इस घटना को लेकर एक ट्वीट किया।
उन्होंने लिखा पहले झगडे के 9 आरोपियों में से 5 हिन्दू हैं, उन्होंने लिखा इस घटना के मुस्लिम आरोपी उत्तरप्रदेश के हैं न कि बांग्लादेश के।
 
मोनिका के इस ट्वीट को अभी तक 2,807 लोगों ने Re -tweet किया है। कई लोगों ने महिला आईपीएस के इस ट्वीट पर भद्दी टिप्पणियां भी की। (इंडिया संवाद)
Loading...