दिल्ली यूनिवर्सिटी के रामजस कॉलेज में विरोध प्रदर्शन के बीच हिंसक झड़प को लेकर न्यूज़ चैनल एनडीटीवी पर एक डिबेट हुई. इस डिबेट में मेहमान बने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से समर्थक और डीयू में प्रोफेसर राकेश सिन्हा और जेएनयू की छात्रा और नेता शहला राशिद सोहरा. इस डिबेट का विडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा हैं क्योंकि RSS नेता राकेश सिन्‍हा ने शहला के तीख़े सवालों से तंग आकर शो को बीच में ही छोड़ दिया.

दरअसल डिबेट की शुरूआत में शहला अपने साथ लेकर आये पत्थर को दिखा कर आरोप लगाती हैं कि उन्हें ABVP के कार्यकर्ताओं ने सिर पर ये पथर मारा. पत्थर को दिखाते हुए उन्होंने राकेश सिन्हा से इस पर उनके विचार जानना चाहा. वहीँ राकेश सिन्हा ने आरोप लगाया कि कॉलेज में एक नया नारा लगाया गया था जिसमें ‘बस्तर की आजादी’ की बात कही गई. लेकिन शहला ने कहा कि वहां ऐसा कुछ नहीं हुआ.

इस पर दोनों के बीच बहस शुरू हो हुई. शहला ने कहा, राकेश सिन्हा झूठ बोल रहे हैं. इस पर राकेश सिन्हा ने कहा कि जो पत्थर शहला दिखा रही थीं वह उनके लोगों द्वारा ही फेंके गए थे. फिर वह वीडियो सबूत होने की बात कहने लगे. उन्होंने आरोप लगाया कि शहला राजनीति चमकाने के लिए यह सब कह रही हैं.

इस पर शहला ने कहा कि क्या राकेश सिन्हा रामजस में पत्थर फेंकने वालों का विरोध कर सकते हैं.  राकेश सिन्हा ने कहा कि हां वह उन लोगों का विरोध करते हैं. लेकिन फिर जब राकेश ने कहा कि क्या शहला आजादी का नारा लगाने वालों का विरोध कर सकती हैं ? इस पर शहला ने राकेश को ‘बेशर्म आदमी’ कह दिया. इस पर राकेश सिन्हा भड़क गए और फिर वहां से जाने ले लिए खड़े हो गए और उन्होंने अपना माइक उतार दिया.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें