देहरादून | जनादेश मिलने के करीब एक हफ्ते बाद बीजेपी ने उत्तराखंड में नए मुख्यमंत्री के नाम की घोषणा कर दी है. शुक्रवार को विधायक दल की बैठक में बीजेपी के वरिष्ठ नेता त्रिवेन्द्र सिंह रावत को नेता चुना गया. इसके बाद बीजेपी के केन्द्रीय पर्यवेक्षको ने रावत के नाम की घोषणा की. रावत शनिवार को मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे. उम्मीद है की शपथ ग्रहण में प्रधानमंत्री मोदी और अमित शाह शामिल हो सकते है.

11 मार्च को विधानसभा चुनावो के नतीजे आने के बाद उत्तराखंड में मुख्यमंत्री के नाम पर सस्पेंस बना हुआ था. मालूम हो की बीजेपी ने चुनावो के दौरान कोई भी मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित नही किया था. इसलिए सभी की निगाहे इस बात पर टिकी थी की मोदी उत्तराखंड के लिए किस चेहरे पर विश्वास जताते है. उम्मीद थी की महाराष्ट्र और हरियाणा की तरह किसी नए चेहरे को कमान सौपी जाएँगी.

मुख्यमंत्री चुनने के लिए बीजेपी विधायको की बैठक शुक्रवार को करीब 3 बजे शुरू हुई. देहरादून के मधुबन होटल में शुरू हुई यह बैठक करीब 2 घंटे चली. विधायक दल की बैठक को देखते हुए दिल्ली से केन्द्रीय परिवेक्षक के रूप में केन्द्रीय मंत्री जेपे नड्डा और धर्मेन्द्र प्रधान भी पहुंचे थे. बैठक शुरू होते ही बीजेपी विधायक प्रकाश पन्त और सतपाल महाराज ने त्रिवेंद्र सिंह रावत के नाम का प्रस्ताव रखा.

प्रस्ताव पर मदन कौशिक , बिशन सिंह चुफाल, हरक सिंह रावत, ऋतू भुसन खंडूड़ी और यशपाल आर्य को अपना समर्थन दिया. विधायक दल का नेता बनने के बाद केन्द्रीय परिवेक्षाको ने त्रिवेंद्र सिंह रावत के नाम की घोषणा कर दी. बैठक में मंत्रिमंडल के लिए कुछ नामो पर भी चर्चा की गयी. इसके बाद त्रिवेन्द्र सिंह , राजभवन पहुंचे जहाँ उन्होंने राज्यपाल केके पॉल से मुलाकात की. राज्यपाल ने त्रिवेंद्र सिंह को मुख्यमंत्री के लिए मनोनीत कर शपथ लेने के लिए आमंत्रित किया. उम्मीद है की कल 6 से 7 मंत्री शपथ ले सकते है.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?