VHP for the temple is not in the mood to wait anymore: Togadia

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर एनकाउंटर कराने का गंभीर आरोप लगा चुके प्रवीण तोगड़िया अब अपने अस्तित्व की लड़ाई लड़ रहे हैं. स्वामी चिन्मयानंद ने ऐलान कर दिया है कि प्रवीण तोगड़िया का वीएचपी से अब कोई लेनादेना नहीं है.

इलाहाबाद में होने वाले संत सम्मेलन में स्वामी चिन्मयानंद ने कहा कि प्रवीण तोगड़िया का फिलहाल विश्व हिंदू परिषद से कोई संबंध नहीं है. हमारे यहां अनुशासनहीनता के लिए कोई जगह नहीं है. साथ ही उन्होंने तोगड़िया के चुनाव करवाने के फैसले को भी गलत बताया.। उन्होंने कहा कि प्रवीण तोगड़िया के नाम पर ना तो कोई चर्चा होगी और ना ही हम करने देंगे.

राम मंदिर निर्माण के मुद्दें पर स्वामी चिन्मयानंद ने कहा कि राम मंदिर पर भी ना तो कोई प्रस्ताव आएगा और ना ही पास होगा. प्रधानमंत्री से लेकर मुख्यमंत्री योगी तक सभी लोग अदालत के फैसले का इंतजार कर रहे हैं और जैसे ही फैसला आएगा हमारी सरकार मंदिर बनाने में हमें मदद करेगी.

ऐसे में अब तोगड़िया ने 14 जनवरी को मुंबई में हुए एक कार्यक्रम का निमंत्रण पत्र मीडिया में भेजकर यह जताने की कोशिश की है कि वे ही विश्व हिंदू परिषद के अध्यक्ष हैं. तोगड़िया ने 14 जनवरी को मुंबई में अमृत महोत्सव समिति की ओर से आयोजित कार्यक्रम का एक निमंत्रण पत्र मीडिया को भेजा है. इसमें विशिष्ट अतिथि के रूप में तोगड़िया को विहिप का अन्तर्राष्ट्रीय कार्याध्यक्ष बताया गया है.