गंभीर मुद्दों को छोड़ कथित तौर पर मुस्लिमों के खिलाफ एक अभियान के तहत टीवी चैनल्स पर रोजाना बहस कराई जाती है. इन बहस का मुद्दा अकसर हिन्दू-मुस्लिम को लेकर होता है. जो पत्रकारिता को सवालों के घेरे में लाता जा रहा है.

इसी बीच श्री कलकी फाउंडेशन और पिताधिशवर के संस्थापक आचार्य प्रमोद कृष्णम ने इन डिबेट्स की तीखी आलोचना की है. उन्होंने कहा कि रोजाना होने वाली ये डिबेट्स मुस्लिमों को गद्दार साबित करने के लिए की जा रही है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उन्होंने ट्वीट कर कहा कि ‘मुसलमानों को “ग़द्दार” साबित करने के लिये रोज़ शाम को टीवी चैनल पे बहस करायी जाती हैं,और सारे ग़द्दार “देशभक्त” बन के बैठे होते हैं.’

उन्होंने दुसरे ट्वीट में मोदी सरकार और शिवसेना के रिश्ते को लेकर तंज कसा और कहा कि सरकार में रहते हुए सरकार को “ठोकना” कोई “शिवसेना” और “ठाकरे” से सीखे.

Loading...