mamta

कोलकाता: राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के अनुसार देश भर में मुस्लिम छात्रों की आर्थिक मदद करने में पश्चिम बंगाल का पहला स्थान हैं.

राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के सदस्य कैप्टन प्रवीण दावर ने इस बारे में कहा कि भारत में पश्चिम बंगाल पहला राज्य है जहां मुस्लिम छात्रों को बड़े पैमाने पर छात्रवृत्ति प्रदान करने के साथ मुस्लिमों को ऋण भी उपलब्ध भी कराया जा रहा है. इसके लिए उन्होंने ममता सरकार की सराहना भी की.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उन्होंने आगे कहा, मुस्लिमों के शैक्षिक, सामाजिक, आर्थिक विकास के लिए पिछले पांच वर्षों में बनाई गई परियोजनाओं का कार्यान्वयन गंभीरता के साथ किया जा रहा हैं.

कैप्टन ने इस दौरान अल्पसंख्यक विभाग और मदरसा शिक्षा के प्रमुख सचिव और अन्य अधिकारी के साथ बैठक की. अल्पसंख्यक योजनाओं के कार्यान्वयन और अन्य मुद्दों पर चर्चा की.

Loading...