Sunday, September 19, 2021

 

 

 

‘तीन तलाक और समान नागरिक संहिता के मुद्दें पर एक हुए सुन्नी सूफी और देवबंदी मुसलमान’

- Advertisement -
- Advertisement -

bur

केंद्र की मोदी सरकार द्वारा तीन तलाक को ख़त्म करने और समान नागरिक संहिता को मुसलामनों पर थोपने को लेकर देश के मुसलमान एक होता नजर आ रहा हैं. कॉमन सिविल कोड और तीन तलाक के मुद्दे पर दोनों फिरकों के उलेमाओं ने मौके की नजाकत को देखते हुए एक मंच पर आने का फैसला किया हैं.

देशभर में इन दोनों मुद्दों पर विरोध करने के लिए 13 नवंबर का दिन निर्धारित किया गया हैं. इसी दिन अजमेर शरीफ और कानपुर से एक साथ इन मुद्दों को लेकर अधिवेशन बुलाया जायेगा. अजमेर शरीफ में अधिवेशन मौलाना सैयद असद मदनी संभालेंगे जबकि कानपुर में इस अधिवेशन की कमान मौलाना सैयद अरशद मदनी के पास होगी. वहीँ दरगाह अजमेर शरीफ के सज्जादानशीन दीवान सैयद जैनुल आबदीन अजमेर शरीफ में मेहमानों का इस्तकबाल करेंगे.

इसके अलावा इस अधिवेशन को कामयाब बनाने के लिए देवबंद से अजमेर शरीफ के लिए एक विशेष ट्रेन ख्वाजा गरीब नवाज एक्सप्रेस भी चलेगी. साथ ही कानपुर से भी 50 बसें अजमेर शरीफ ले जाने की रणनीति भी तय की गई है. इसके अलावा निम्नलिखित तारीखों पर जनसभाएं भी आयोजित होंगी.

– 07-08 नवंबर मुरादाबाद

– 12 नवंबर सुल्तानपुर

– 13 नवंबर कानपुर

– 19-20 नवंबर देवबंद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles