Sunday, October 24, 2021

 

 

 

हजारों अल्पसंख्यक युवाओं को जीएसटी फैसिलिटेटर बनाया जाएगा: नकवी

- Advertisement -
- Advertisement -

केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने आज कहा कि देश में जीएसटी लागू होने के बाद उनके मंत्रालय की मदद से जीएसटी फैसिलिटेटर की पढ़ाई करके पिछले कुछ महीनों में सैकड़ों युवाओं को नौकरी मिली है और आने वाले समय मे अल्पसंख्यक समुदायों के हजारों और युवाओं को इसमें प्रशिक्षित किये जाने एवं रोजगार मुहैया कराने का लक्ष्य है।

मंत्रायल गरीब नवाज कौशल विकास योजना के तहत जीएसटी फैसिलिटेट और सेनेटरी सुपरवाइजर के दो सर्टिफिकेट पाठ्यक्रमों पर जोर दे रहा है। हैदराबाद में इस साल जून में गरीब नवाज कौशल विकास केंद्र में ये पाठ्यक्रम शुरू किए गए। मंत्री में मुताबिक इसके नतीजे उत्साहजनक रहे हैं।

नकवी ने आज मौलाना आजाद एजुकेशन फाउंडेशन एमएईएफ की जनरल बॉडी एवं गवर्निंगबॉडी की मीटिंग की बैठक की अध्यक्षता की। बैठक में फाउंडेशन द्वारा अल्पसंख्यकों के शैक्षिक एवं कौशल विकास के लिए चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं की समीक्षा की गई।

नकवी ने कहा, गरीब नवाज कौशल विकास कार्यक्रम के तहत जीएसटी फैसिलिटेटर के 3 माह के कोर्स से सैंकड़ों नौजवान छोटे-मझाोले और बड़े व्यापारिक संस्थानों के साथ जुड़ कर उनकी मदद कर रहे हैं। आगे हजारों युवाओं को प्रशिक्षण देकर रोजगार मुहैया कराने का लक्ष्य है।ै

उन्होंने कहा, इसी प्रकार सरकार द्वारा चलाये जा रहे स्वच्छता अभियान के तहत निर्मित लाखों शौचालयों, स्वच्छता केंद्रों, स्वास्थ्य केंद्रों में सेनेटरी सुपरवाइजर का कोर्स कर रहे लोगों को रोजगार और रोजगार के अवसर मिल रहे हैं साथ ही ये लोग स्वच्छता अभियान के रख-रखाव में भी बड़ी भूमिका निभा रहे हैं।ै

नकवी ने कहा कि अल्पसंख्यक वर्ग के लोगों का शैक्षिक एवं कौशल विकास का मजबूत मिशन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार के अल्पसंख्यकों के ैसम्मान के साथ सशक्तिकरणै के संकल्प को पूरा कर रहा है। उन्होंने कहा कि अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय अपने कुल बजट का 65 प्रतिशत से ज्यादा हिस्सा अल्पसंख्यक समुदाय के युवाओं के शैक्षिक सशक्तिकरण एवं कौशल विकास की योजनाओं पर खर्च कर रहा है।

नकवी ने कहा कि विभिन्न स्कालरशिप योजनाएं, प्रतियोगिता परीक्षा के लिए सहायता की योजनाएं, ैबेगम हजरत महल बालिका छात्रवृति योजनौ अल्पसंख्यक समुदायों के शैक्षिक सशक्तिकरण की दिशा में महत्वपूर्ण कदम साबित हुई हैं।।

उनके मुताबिक पिछले तीन वर्ष में अल्पसंख्यक मंत्रालय द्वारा डेढ़ करोड़ से ज्यादा छात्रों को विभिन्न छात्रवृाियां दी गई हैं।बैठक में नकवी ने कहा कि सभी योजनाओं को असरदार तरीके से जमीनी स्तर पर लागू किया जाना चाहिए ताकि हर जरूरतमंद तक इन सभी योजनाओं का लाभ पहुॅंच सके। (भाषा)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles