भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के अधिकारियों की मेहनत से भारत जल्द ही 100 विदेशी उपग्रहों के प्रक्षेपण करने वाले देशों में शामिल हो जायेगा.

एंट्रिक्स कॉरपोरेशन के अनुसार, इसरो ने अब तक 20 देशों के 74 उपग्रह प्रक्षेपित किए हैं और सोमवार को भी भारतीय रॉकेट ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण यान (पीएसएलवी) के जरिये पांच विदेशी उपग्रहों सहित कुल आठ उपग्रहों का प्रक्षेपण करने जा रहा हैं. इस प्रक्षेपण के सफल होने के साथ ही कुल विदेशी उपग्रहों की संख्या 79 हो जाएगी. इसके अलावा भारत अगले महीने दो और विदेशी उपग्रहों को प्रक्षेपित करेगा.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इसरो के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, “कुछ और प्रक्षेपणों के बाद हमें उम्मीद है कि हम 100 विदेशी उपग्रहों के प्रक्षेपण के जादुई आंकड़े को छू लेंगे…”

गौरतलब है कि भारत ने विदेशी उपग्रहों के प्रक्षेपण की शुरुआत वर्ष 1999 में की थी. वैसे, इसरो वर्ष 2007 से उपग्रहों के प्रक्षेपण का ठेका पा रहा है, जब इसने एगील इतावली उपग्रह को प्रक्षेपित किया था.